प्रेमिका के सामने प्रेमी का मर्डर, लड़के के परिवार ने शव को आरोपी के दरवाजे के आगे जला दिया….बोले, क्या करते…

Share

दिल दहलाने वाली ये कहानी है मुजफ्फरपुर जिले के कांटी थाना क्षेत्र के रामपुर शाह की। शुक्रवार रात कांटी थाना क्षेत्र के सोनवर्षा गांव का रहने वाला 22 साल का सौरभ रामपुर साह गांव में अपनी प्रेमिका से मिलने गया था। सौरभ उड़ीसा में एक प्राइवेट कंपनी में काम करता था। जुलाई में अपनी बहन की शादी  में घर आया था। इसी दौरान वो रामपुर साह गांव में अपनी प्रेमिका से मिलने गया था। जहां सौरभ की प्रेमिका के भाइयों ने उसपर हमला कर दिया। सौरभ को कमरे में बंद कर बुरी तरह पीटा। सौरभ की अपनी प्रेमिका से मुलाकात उनके भाइयों को इतनी नागवार गुजरी कि उन्होंने उसके गुप्तांग भी काट दिए। आरोपियों को सौरभ की मौत का डर लगा तो उसे अस्पताल में भर्ती कराया दिया, फिर वहां से फरार हो गए। बाद में इसकी खबर परिवार को मिली, वो अस्पताल पहुंचे, लेकिन इलाज के दौरान सौरभ ने दम तोड़ दिया। सौरभ के परिवार का आरोप है कि उसे साजिश के तहत घर बुलाया गया फिर उसकी हत्या की गई।

सौरभ की मौत के बाद गुस्साए परिजन उसके शव को पोस्टमार्टम के बाद सीधे वहां ले गये, जहां उसकी निर्मम पिटाई की गई थी।  आरोपी के दरवाजे के बाहर ही चिता सजाई गई और सौरभ का अंतिम संस्कार कर दिया गया। सौरभ के अंतिम संस्कार के वक्त गांव के लोग वहीं मौजूद थे। ना सिर्फ गांव के लोग पुलिसवाले भी प्रेमिका के घर के बाहर ही खड़े रहे। 

सौरभ के चाचा ने बातचीत में कहा कि एक ही बेटा था, जिससे बहुत उम्मीदें थी। उसकी उम्र 22 साल थी, उड़ीसा में काम कर अपने परिवार की मदद कर रहा था। बहन की शादी पर घर आया था, लेकिन रात में हुए हादसे ने पूरे परिवार को हिलाकर रख दिया। खबर मिली तो दौड़े-दौड़े अस्पताल गए, लेकिन सौरभ ने इलाज के दौरान ही दम तोड़ दिया। आंखों में आंसू थे, मन में सवाल था कि सौरभ के शव को कहां ले जाएं, ये सब सहा नहीं गया तो जहां उसे मारा गया था वहीं अंतिम संस्कार कर दिया। उन्होंने कहा कि गलत किया तो सजा दीजिए नहीं तो इंसाफ चाहिए

1 2 3 116
Facebook Comments Box