बक्सर :- गंगा में मिल रहे शवों का सच क्या है?….. अबतक 100 से ज्यादा मिलीं लाशें

Share

बिहार के बक्सर से रोंगटे खड़े करने वाली तस्वीरें सामने आई हैं। बक्सर के गंगा घाट तट से 100 से ज्यादा संदिग्ध शव बरामद हुए हैं। शवों की स्थिति बेहद डरावनी है। ये शव बिहार-यूपी की सीमा से लगे चौसा में मिले हैं। जहां दर्जनों शव नदी में तैरती दिखीं। कई जगह शवों के ऊपर कौवे मंडराते दिखे। सुबह जब लोग नदी किनारे गए तो इन शवों को देखकर डर गए। स्थानीय प्रशासन को लगता है कि ये शव उत्तर प्रदेश की सीमा से बहकर आए बिहार की तरफ आए हैं। आशंका जताई जा रही है कि ये शव कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों के हैं, जिनका अंतिम संस्कार नहीं हो पाया। परिवार ने अंतिम संस्कार के लिए जगह नहीं मिलने पर बहा दिया।

गंगा नदी में सैंकड़ों शव मिलने से आसपास के इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। इस बीच अफवाह भी फैल रही है कि शवों से और नदी के पानी से कोरोना फैल सकती है। लोग कह रहे हैं कि शवों को दफना देना चाहिए नहीं तो चारों तरफ कोरोना संक्रमण फैल जाएगा। कई स्थानीय पत्रकार दावा कर रहे हैं कि स्थानीय प्रशासन शवों को दफनाने के लिए 500 रुपए भी दे रहे हैं। उधर शवों को लेकर यूपी-बिहार में सियासत भी शुरू हो गई है। शनिवार को यूपी के हमीरपुर में भी यमुना नदी में अधजले संदिग्ध शव मिले थे। अब उन्हीं शवों को नदी के रास्ते यूपी से बिहार तक पहुंचने का दावा किया जा रहा है। भारत में 3 हफ्ते से ज्यादा वक्त से रोज 3 लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं, जबकि हर दिन रिकॉर्ड मौत हो रही है।