धमाके की बड़ी साजिश नाकाम….3 राज्यों से 6 आतंकी गिरफ्तार…. साजिश से जुड़ी हर बात जानिए

Share

देश को एक बार फिर दहलाने की साजिश में जुटी हैं सरहद पार बैठी ताकतें, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी- ISI के हाथों की कठपुतली बना बैठा मोस्टवांटेड दाऊद इब्राहिम एक बार फिर भारत में धमाकों की साजिश रच रहा है, त्योहारों पर ये खूनखराबा करने की साजिश थी, लेकिन दाऊद के इन आतंकी मोहरे के इनके अंजाम तक पहुंचने से पहले ही धर दबोचा गया है. 1993 के मुंबई धमाके के बाद एक बार फिर D कंपनी ने भारत को दहलाने की साजिश रची थी. दाऊद इब्राहिम के इशारे पर उसका भाई अनीस इब्राहिम हिंदुस्तान को दहलाने का पूरा ब्लूप्रिंट तैयार कर चुका था. अगले महीने नवरात्र और रामलीला के जश्न में खुशियों की जगह धमाकों के जरिए आतंक फैलाने की थी साजिश, लेकिन इससे पहले ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को मिला इस साजिश का सुराग और दिल्ली पुलिस ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग ले चुके दो आतंकियों को विस्फोटकों के साथ गिरफ्तार किया है. दाऊद के इशारे पर आतंक की खूनी साजिश को अंजाम तक पहुंचाने में लगे 6 आतंकियों को यूपी एटीएस और दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है.  

दाऊद के आतंकी मोहरों में पहला नाम है- जान मोहम्मद शेख का है, जिसे राजस्थान के कोटा से गिरफ्तार किया गया है. जान मोहम्मद उर्फ समीर कालिया मुंबई के सायन वेस्ट का रहने वाला है. इसके बाद ओसामा उर्फ समी को दिल्ली के ओखला से गिरफ्तार किया गया, ओसामा दिल्ली के जामिया इलाके का रहने वाला है. दिल्ली की स्पेशल सेल ने अबू बकर को भी दिल्ली के सराय काले खान इलाके से गिरफ्तार किया , अबू यूपी के बहराइच जिले के कैसरगंज का रहने वाला है. इसके अलावा तीन आतंकियों को यूपी के अलग अलग शहरों से एटीएएस की मदद से गिरफ्तार किया गया है. इनमें पहला नाम मूलचंद उर्फ संजू उर्फ लाला का है, जिसे रायबरेली से पकड़ा गया है. मूलचंद के पिता का नाम ओम प्रकाश श्रीवास्तव है, और से रायबरेली के सलीमपुर भैरो का रहनेवाला है. यूपी से पकड़े दूसरे आतंकी का नाम जीशान कमर, पुत्र कमरू जमान प्रयागराज से पकड़ा गया है ये यहीं के करेली का रहने वाला है. यूपी से पकड़ा गया तीसरा नाम आमिर जावेद का है. पिता का नाम असलम जावेद बेग है. आमिर जावेद को लखनऊ से ही पकड़ा गया है और ये लखनऊ के बख्शी का तालाब इलाके का रहने वाला है. 

दिल्ली पुलिस के मुताबिक आतंकियों का ये गिरोह दाउद के भाई अनीस इब्राहिम के संपर्क में था, और इनमें से दो आतंकी पाकिस्तान भी जा चुके हैं. दिल्ली से गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकी ओसामा और जीशान इसी साल पाकिस्तान ट्रेनिंग करने गए थे , ये मस्कट के रास्ते पाकिस्तान गए, पहले इन्होंने दिल्ली से मस्कट की फ्लाइट ली और वहां से बोट के जरिए पाकिस्तान पहुंचे, इन लोगोंं को दाउद का भाई अनीस हथियार सप्लाई कर रहा था. इनको सॉफिस्टिकेटेड पिस्तौल भी दी गई थीं जिनका इस्तेमाल टारगेट किलिंग के लिए करना था. पुलिस के मुताबिक इनके निशाने पर देश के बड़े शहर थे, इसके साथ ही पिस्टल से टारगेट किलिंग का भी मंसूबा था. इस साजिेश के तार कई राज्यों में फैले हुए थे,अब तक की जानकारी के मुताबिक दिल्ली, यूपी और महाराष्ट्र में धमाके की साजिश थी. धमाके नवरात्र या रामलीला के त्योहार के दौरान भीड़भाड़ में किया जाना था. इन आतंकियों से मिल रहे इनपुट के आधार पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल अबइस नेटवर्क के पूरे माड्यूल को खंगालने में जुटी है, और जल्दी ही कुल और गिरफ्तारियां भी हो सकती हैं. 

1 2 3 116
Facebook Comments Box