धोनी की सीएसके 9वी बार फाइनल में पहुंचने वाली सीजन 12 की सबसे बडी दावेदार

Share

नई दिल्ली :आईपीएल 2021 के पहले क्वालीफायर में दिल्ली और चेन्नई की टीमें आमने-सामने थी, यहां से जीतने वाली टीम को सीधे फाइनल का टिकट मिल गया तो हारने वाली टीम को फाइनल में पहुंचने का एक और मौका . चेन्नई की टीम 14 मैचों में 9 जीत और 5 हार के बाद 18 अंक लेकर दूसरे स्थान पर रही.इस मुकाबले में एक समय सीएसके के लिए राह आसान नहीं लग रहा था लेकिन कप्तान धौनी ने अपना पुराना अंदाज दिखाते हुए चौका लगाकर टीम को जीत दिलाई और फाइनल में पहुंचा दिया। वहीं धौनी पहली बार आइपीएल प्लेआफ में सफलतापूर्वक रन चेज करते हैं

एमएस धोनी प्लेऑफ खेलने वाले आईपीएल के दूसरे सबसे उम्रदराज कप्तान बन गये, तो ऋषभ पंत सबसे युवा कप्तान बन गये. धोनी 40 साल के हो गये हैं और उनकी कप्तानी में चेन्नई की टीम आईपीएल 2021 का प्लेऑफ मुकाबला खेल रही है.
धोनी से पहले यह रिकॉर्ड टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ के नाम रहा. राहुल 2013 सीजन में सबसे अधिक उम्र में प्लेऑफ में खेलने वाले कप्तान बने थे. दिल्ली आइपीएल 2021 के पहले क्वालीफायर मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स ने दिल्ली कैपिटल्स को एक बेहद रोमांचक मुकाबले में 4 विकेट से हरा दिया और इस सीजन में फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई। चेन्नई सुपर किंग्स का आइपीएल में ये 12वां सीजन है और इनमें से ये टीम नौवीं बार फाइनल में पहुंची है। सीएसके इस लीग में सबसे ज्यादा बार फाइनल में पहुंचने वाली टीम है।

पिछले सीजन यानी साल 2020 में सीएसके प्लेआफ तक भी नहीं पहुंच पाई थी, लेकिन इस बार धौनी की कप्तानी में टीम में जबरदस्त बदलाव देखने को मिला और शुरू से ही ये टीम हावी नजर आई। 14 लीग मुकाबले में इस टीम को 9 में जीत मिली तो वहीं 5 में हार भी मिली, लेकिन जब टीम को पहले क्वालीफायर में खेलने का मौका मिला तो कई भी गलती नहीं करते हुए इस टीम ने फाइनल में जगह बनाई। इससे पहले सीएसके 8 बार फाइनल में पहुंची थी और तीन बार खिताब जीतने में सफलता हासिल की। इस सीजन में सीएसके जिस तरह से खेल रही है वो टाइटल की सबसे बड़े दावेदार के तौर पर उभरी है। सीएसके की जीत में इस मैच में रितुराज गायकवाड़ के 70 रन, राबिन उथप्पा के 63 रन, मोइन अली के 16 रन और धौनी के नाबाद 18 रन ने बड़ी भूमिका निभाई। इस सीजन में दिल्ली ने दोनों लीग मुकाबलों में सीएसके को हराया था, लेकिन इस बार धौनी ने कोई गलती नहीं की और दिल्ली को कोई मौका नहीं दिया। आइपीएल में अब तक सबसे ज्यादा सीएसके 9 बार प्लेआफ में पहुंची है तो इस मामले में दूसरे नंबर पर मुंबई की टीम है जिसने 6 बार ये कमाल किया है।

1 2 3 150
Facebook Comments Box