भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी को भारत को सौंपने की बजाय वापस एंटीगुआ-बार्बुडा भेजेगी डोमिनिका सरकार

Share

भारत के भगोड़े और पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले का आरोपी हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी को डोमिनका सरकार वापस एंटीगुआ-बार्बुडा भेजेगी। डोमिनिका सरकार ने इसकी जानकारी दी है। एंटीगुआ-बार्बुला की प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउन ने का कहना है कि हमें इस बात की जानकारी मिली है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण फैसला है। डोमिनिका की सरकार ने बताया कि नेशनल सिक्योरिटी मिनिस्ट्री ने एंटीगुआ सरकार से मेहुल चौकसी की नागरिकता और कुछ दूसरे तथ्यों को लेकर जानकारी मांगी हैं। चौकसी अवैध तरीके से डोमिनिका में आया था। अभी वह हमारी कस्टडी में है, उससे पूछताछ की जा रही है। सारी जानकारी मिलते ही उसे एंटीगुआ के हवाले कर दिया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डोमेनिका में मेहुल के वकील मार्श वेन का कहा कि आज सुबह उनकी मेहुल से पुलिस स्टेशन में मुलाकात हुई। मेहुल ने आरोप लगाया कि डोमेनिका में उसका अपहरण कर लाया गया है। साथ ही मारपीट की गई। चौकसी के वकील मामले में राहत के लिए अदालत में अपील दाखिल करने वाले हैं। बता दें चोकसी 3 दिन पहले एंटीगुआ और बारबूडा से फरार हो गया था और इसके बाद इंटरपोल ने उसके खिलाफ यलो नोटिस जारी किया था। बाद में इसी नोटिस को एंटीगुआ सरकार ने भी रिटेन किया। इसके बाद उसकी तलाश तेज कर दी गई। इसके बाद मेहुल को डोमिनिका में गिरफ्तार किया गया था। हालांकि, उसे गिरफ्तार किया गया है या पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है, यह अब तक साफ नहीं हो सका है। डोमिनिका पुलिस अब कानूनी प्रक्रिया के तहत उसे एंटीगुआ और बारबुडा प्रशासन को सौंपेगी। चोकसी पंजाब नेशनल बैंक में 13,500 करोड़ रूपये के ऋण धोखाधड़ी के मामले में वांछित है।

1 2 3 104