पकड़ा गया भगोड़ा मेहुल चोकसी… एंटीगुआ के पीएम ने कहा- वहां से सीधे भारत भेजा जाएगा

Share

भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी का पता चल गया है। बता दें एंटीगुआ और बारबुडा से हाल में फरार हुए भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को पड़ोस के डोमिनिका में पकड़ लिया गया। उसके खिलाफ इंटरपोल ने ‘यलो नोटिस’ जारी किया था। अभी वह डोमिनिका में क्रिमिनिल इन्वेस्टीगेशन डिपार्टमेंट (सीआईडी) की कस्टडी में है। एटीगुआ की पुलिस डोमिनिका पुलिस के संपर्क में है. यह दावा एंटीगुआ की मीडिया रिपोर्ट्स में बुधवार की देर रात किया गया। वहीं एंटीगुआ पीएमओ ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा कि हमने डोमिनिका से कहा है कि वो गैरकानूनी रूप से डोमिनिका में प्रवेश करने पर मेहुल चोकसी पर सख्त कार्रवाई करे और उसे सीधे भारत को सौप दे।

मेहुल चोकसी पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की कर्ज जालसाजी मामले में चोकसी वांछित है। और उसे आखिरी बार रविवार को एंटीगुआ और बारबुडा में अपनी कार में खाना खाने लिए जाते हुए देखा गया था। चोकसी की कार मिलने के बाद उसके कर्मचारियों ने लापता होने की सूचना दी। चोकसी के वकील विजय अग्रवाल ने पुष्टि की थी कि चोकसी रविवार से लापता था।  बता दें मेहुल चोकसी नीरव मोदी का मामा है। चोकसी और उसके भतीजे नीरव मोदी पर कुछ बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप है। नीरव मोदी अभी लंदन की एक जेल में बंद है। दोनों के खिलाफ सीबीआई जांच कर रहा है। चोकसी भारत से भाग गया था और जांच एजेंसियों के मुताबिक वह एंटीगुआ और बारबुडा में रह रहा है।  मार्च में मेहुल चोकसी को कैरेबियाई राष्ट्र के निवेश कार्यक्रम (सीआईपी) के तहत मिली नागरिकता को एंटीगुआ और बारबुडा द्वारा रद्द करने की खबरें आईं थीं।  एंटीगुआ और बारबुडा की ओर से भगोड़े कारोबारी मेहुल चोकसी की नागरिकता रद्द करने की खबरों पर उसके वकील विजय अग्रवाल ने कहा था कि मेरे मुवक्किल मेहुल चोकसी एंटीगुआ के नागरिक हैं। उनकी नागरिकता को रद्द नहीं किया गया है। 

1 2 3 116
Facebook Comments Box