कानपुर में ऑनर किलिंग… नाबालिग बेटी और उसके प्रेमी को पिता ने कुल्हाड़ी से काटा…

Share

कानपुर के घाटमपुर के बिराहिनपुर गांव में सरेआम एक पिता ने भाइयों के साथ मिलकर अपनी नाबालिग बेटी और उसके नाबालिग प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया। वहीं इस घटना के दौरान लड़के का पिता खिड़की से आरोपितों से रहम की गुहार करता रहा लेकिन लड़की के पिता ने दोनों को मौत के घाट उतारने के बाद ही शांत हुए।

बताया जा रहा है कि बिराहिनपुर गांव का रहने वाला ट्रक ड्राइवर शिवआसरे के चार बच्चों में बेटी सपना सबसे बड़ी थी। सपना का गांव के ही बैजनाथ के इकलौते बेटे शालू से प्रेम संबंध थे। अक्सर दोनों परिवारों में इसको लेकर विवाद होता था। गुरुवार को शिवआसरे पत्नी और दो बच्चो को लेकर बांदा साले की शादी में शामिल होने गया था। घर मे बड़ी बेटी के अलावा उसका भाई था। रात करीब 12 बजे प्रेमी शालू सपना से मिलने उसके घर आ गया। इसकी भनक लगते ही सपना के चाचा ने मेन दरवाजे में ताला बंद कर अपने भाई को सूचना दे दी। शनिवार सुबह करीब सात बजे बांदा से पहुंचे पिता शिव आसरे ने भाई दीपक और रामआसरे के साथ मिलकर बेटी और उसके कथित प्रेमी की कुल्हाड़ी से काट कर हत्या कर दी। इस घटना के दौरान शालू के माता-पिता भी वहीं मौजूद थे। घर के खिड़की से दोनों सब कुछ देख रहे थे। शिव आसरे और उसके भाइयों से रहम की गुहार कर रहे थे लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं था। बता दें उसके दोनों भाई पुलिस के पहुंचने से पहले ही फरार हो गए। पुलिस ने मुख्य आरोपी बेटी के पिता शिव आसरे को गिरफ्तार कर हत्या में इस्तेमाल कुल्हाड़ी बरामद कर ली है।

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction