चित्रकूट जेल में कैदियों के बीच चली गोली … मुख्तार गैंग के मेराज समेत दो बदमाशों की हत्या … पुलिस ने किया एनकाउंटर

Share

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जेल में अंशु दीक्षित नामक कैदी ने मुकीम काला और मिराजुद्दीन (मेराज अली) की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं पुलिस कार्रवाई में अंशुल दीक्षित भी मारा गया। जेल के अंदर फायरिंग से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। बता दें मुकीम काला पश्चिम उत्तर प्रदेश का बड़ा बदमाश था। मुकीम पर हत्या, लूट, रंगदारी, अपहरण, फिरौती जैसे 35 से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे।

बताया जा रहा है कि मृतक बंदी कुछ दिनों पूर्व बाहरी जेल से यहां शिफ्ट हुआ था। अंशु ने पांच कैदियों को बंदी भी बना लिया और उन्हें जान से मारने की धमकी देने लगा क्योंकि उसके पास असलहा था ऐसे में जिला प्रशासन को सूचना दी गई। चित्रकूट के डीएम और एसपी द्वारा पहुंचकर बंदी को नियंत्रित करने का बहुत प्रयास किया गया किंतु वह पांच अन्य बंदियों को भी मारने की धमकी देता रहा। उसकी आक्रामकता तथा जिद को देखते हुए पुलिस द्वारा कोई विकल्प ना देखते हुए की गई फायरिंग में अंशु दीक्षित भी मारा गया। इस प्रकार कुल 3 बंदी इस घटना में मारे गए हैं। जिले के आला अफसर मौके पर मौजूद हैं।

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction