नए साल की पार्टी और पिकनिक पर 144 का लगा पहरा… पढ़ें गाइडलाइंस

Share

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे को देखते हुए देश-दुनिया चिंचित है। जिस तरह से कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं उससे नए साल के जनवरी से फरवरी के मध्य कोरोना की तीसरी लहर उठने की चेतावनी विशेषज्ञ दे रहे हैं। इसे देखते हुए सख्ती शुरू हो गई है। हरियाणा, यूपी, गुजरात, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में तो नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। झारखंड में भी ओमिक्रोन के मद्देनजर गाइडलाइंस जारी की है। नए साल पर होने वाली पार्टियों  में भीड़ रहती है। पिकनिक स्पाटों पर हजारों की संख्या में लोग जुटते हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण के फैलने की आशंका से इन्कार नहीं किया जा सकता है। इसे देखते हुए धनबाद जिला प्रशासन ने भी कदम उठाया है। एसडीएम प्रेम कुमार तिवारी ने होटलों, क्लबों और पिकनिक स्पाटों पर आज मध्य रात ( 30 दिसंबर) से 2 जनवरी की मध्य रात तक 144 लागू करने का आदेश जारी किया है।

कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर तथा लोगों को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से अनुमंडल दंडाधिकारी प्रेम कुमार तिवारी ने 30 दिसंबर 2021 की मध्य रात्रि से 2 जनवरी 2022 की मध्य रात्रि तक पूरे धनबाद अनुमंडल में कुछ शर्तो के साथ दं.प्र.सं. की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू करने का आदेश दिया है। इस संबंध में अनुमंडल दंडाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए आगामी 30 दिसंबर 2021 की मध्य रात्रि से 2 जनवरी 2022 की मध्य रात्रि तक जिले के सभी पिकनिक स्पॉट, होटल, मॉल, रेस्टोरेंट व अन्य भीड़ भाड़ वाले स्थानों सहित पूरे धनबाद अनुमंडल में दं.प्र.सं. की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू रहेगी। सभी पिकनिक स्पॉट, होटल, मॉल, रेस्टोरेंट व अन्य भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर लोगों को मास्क का प्रयोग, सोशल डिस्टेंस का पालन तथा सैनिटाइजर का उपयोग अनिवार्य रूप से करना होगा। एसडीएम के आदेश में कहा गया है कि कोई कोरोना वायरस से पीड़ित हो या कोई कोरोनावायरस से पीड़ित के संपर्क में आया हो या वैसे व्यक्ति जो कोरोनावायरस से प्रभावित देशों के प्रवास से जिले में प्रवेश किए हो, वैसे व्यक्ति इसकी शीघ्र सूचना या विस्तृत आवश्यक जानकारी प्रदान करने के लिए बाध्य होंगे। संबंधित व्यक्ति या उनके परिवार के सदस्यों को यथाशीघ्र जिला स्तरीय, प्रखंड स्तरीय या पंचायत स्तरीय चिकित्सालय को सूचित करना होगा। उन्होंने कहा कि आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति या प्रतिष्ठान के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता तथा द एपिडेमिक डिजीज एक्ट की सुसंगत धाराओं में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। धनबाद जिले में कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने तथा जांच के क्रम में मिलने वाले संक्रमित व्यक्तियों को उचित स्वास्थ्य प्रबंधन प्रदान करने के उद्देश्य से जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद द्वारा आज धनबाद रेलवे स्टेशन, विभिन्न हॉटस्पॉट, सेंट्रल अस्पताल, शहीद निर्मल महतो मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, टाटा जामाडोबा अस्पताल, एनएच-2 व चिरकुंडा चेकपोस्ट, निजी लैबोरेट्री, बरटांड बस स्टैंड व प्रखंडों में आज 2570 व्यक्तियों की जांच की गई।

1 2 3 179
Facebook Comments Box