चतरा में FCI की लापरवाही से सड़ रहा 2000 बोरा धान…

Share

बोकारो और पलामू जिले में एफसीआई की लापरवाही का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ कि चतरा में भारतीय खाद्य निगम की लापरवाही का नया मामला अब सामने आया है। यहां भी चक्रवाती तूफान यास के कारण हो रही लगातार बारिश में खुले आसमान के नीचे पड़ा धान भींग रहा है।

बताया जा रहा है कि चतरा के मयूरहंड़ प्रखंड कार्यालय के लैंपस गोदाम के एफसीआई धान अधिप्राप्ति केंद्र के बाहर रखा लगभग 2000 बोरा धान चक्रवाती तूफान यास की बारिश में भींगने के बाद सड़ कर बर्बाद हो रहा है। धान के अंकुर बोरा के बाहर निकल आये हैं। इसके बावजूद धान उठाव को लेकर एफसीआई के अधिकारी व कर्मचारी बेफिक्र हैं। फुलांग पंचायत के मुखिया भोला प्रसाद सिंह ने शुक्रवार को पानी में भींग कर सड़ रहे धान का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि एक सप्ताह पहले एफसीआई विभाग ने कई किसानों के धान का उठाव किया था, लेकिन कुछ किसानों को नजरअंदाज कर धान का उठाव नहीं किया गया।

1 2 3 72

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction