नसबंदी के बाद भी महिला बनी मां… की जा रही मामले की जांच

Share

चतरा में डॉक्ट रों की लापरवाही का मामला सामने आया है. एक महिला नसबंदी कराने के 8 महीने बाद मां बन गई. मामला सामने आने के बाद सिविल सर्जन ने कहा कि यह चूक किससे हुई इसका पता लगाया जा रहा है. डॉक्टनरों की इस लापरवाही से परिवार नियोजन के अभियान और सर्जरी करने वाले डॉक्टजर पर भी सवाल उठने लगे हैं.

बताया जा रहा है कि  यह मामला चतर के मयूरहंड प्रखंड के तिलरा गांव का है. तिलरा गांव के राजू पासवान की पत्नी कंचन देवी ने इटखोरी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 25 जनवरी को नसबंदी करवाया था. सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र के सर्जन भूषण राणा ने कंचन देवी का ऑपरेशन किया था. उसके बाद भी वह गर्भवती हो गईं. हजारीबाग के एक प्राइवेट नर्सिंग होम में 27 सितंबर को उन्‍होंने एक बच्चे को जन्म दिया. प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी सुमित जायसवाल को जब इसकी जानकारी मिली तो उन्‍होंने महिला से मुलाकात कर पूरे मामले की जानकारी ली.

1 2 3 150
Facebook Comments Box