देवघर : 700 साल पुरानी मां दुर्गा की मूर्ति मंदिर से हुई चोरी…

Share

देवघर के सबैजोर गांव से सात सौ वर्ष पुरानी दुर्लभ मां दुर्गा की मूर्ति चोरी कर ली गयी है। इस मुर्ति की कीमत करोड़ों रुपए बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि गुरुवार शाम जब मंदिर के पुजारी संध्या पूजा करने के लिए रोज की तरह मंदिर पहुंचे तो देखा कि मंदिर का कपाट खुला है और सिंहासन से माता की प्राचीन मूर्ति गायब है। पुजारी की ओर से घटना की सूचना दिए जाने के बाद सभी ग्रामीण मंदिर परिसर पहुंच गये और काफी खोजबीन भी की लेकिन माता की मूर्ति नहीं मिलने पर इसकी सूचना थाना में दी गयी।

कहा जा रहा है कि सबैजोर इस्टेट के पूर्वज करीब 1810 ईस्वी में सबैजोर गांव आए थे। 1825 ई. में सिंहवाहिनी ठाकुरबाड़ी मंदिर का निर्माण कर, मंदिर में माता दुर्गा की मूर्ति स्थापित की। यह मूर्ति अष्टधातु या सोने से निर्मित अनमोल प्रतिमा थी। इसकी कीमत करोड़ों में होगी। गांव वालो का कहना है कि यह मूर्ति पूर्वजों के पास करीब सात सौ साल पहले से है। करीब दो सौ साल से इस मंदिर में प्रतिमा स्थापित थी। मूर्ति का वजन करीब सवा दो किलो होगा। वहां गांव के सभी ग्रामीण पूजा-अर्चना करते थे। मंडप से देवी की प्राचीन मूर्ती की चोरी की घटना से सभी गांव वाले आक्रोशित हैं।

1 2 3 74

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction