देवघर में हुए सीरियल लूटकांड का खुलासा… पांच अपराधी गिरफ्तार… लूट का सामान बरामद

Share

देवघर में शुक्रवार की रात अपराधियों ने चार लूटकांड की घटना को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती दी थी। 24 घंटे के अंदर ही नगर थाना की पुलिस ने शुक्रवार की रात हुई सीरियल लूटकांड का पता कर लिया है। इस मामले को एक ही गैंग के अपराधियों द्वारा अंजाम दिया गया था। इस गैंग के पांच अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि तीन अपराधी अब भी फरार हैं।

रविवार के दिन देवघर एसडीपीओ पवन कुमार ने पूरे मामले का खुलासा किया। एसडीपीओ ने बताया कि 8 अक्टूबर की रात पहली वारदात जलसार चिल्ड्रेन पार्क के पास हंसमुख लाल की बाइक छीनकर अंजाम दिया गया। 7-8 की संख्या में रहे अपराधियों ने पीड़ित को बंदूक का भय दिखाकर उसके साथ मारपीट कर बाइक छीन लिया। दूसरी घटना में अपराधियों ने सुशांत कुमार के मोबाइल की छिनतई कर ली। इसके बाद तीसरी घटना में अपराधियों ने झौंसागढ़ी के बजरंग बली मंदिर के पास दुमका के अरुण कुमार से बंदूक का भय दिखाकर मोबाइल की छिनतई कर ली। जबकि चौथी घटना में शहर के कानू टोला में महेश्वर साह रेडिमेड कपड़ा दुकान से पिस्तौल का भय दिखाकर 40-45 हजार रुपये लूट लिए गए। एक ही दिन में महज घंटे भर के अंदर शहर में लूट की चार घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा कर देवघर के लोगों में डर का माहौल बना दिया। इसके बाद सभी मामलों की जांच शुरु हुई। जांच के दौरान पुलिस को इस बात की जानकारी मिली कि यह सभी वारदात एक ही गैंग के अपराधियों ने अंजाम दिया है। पुलिस ने लूट के इन वारदातों में शामिल बिलासी टाउन के सुमित ठाकुर उर्फ सुमित शांडिल्य, बावनबीघा के पुष्कर सिंह उर्फ रॉकी, सुभाष चौंक के पास रहने वाले रोहन साह उर्फ सन्नी, स्टेशन रोड के रहने वाले सोनू क्षेत्री और बरमसिया के रहने वाले पंकज कुमार को गिरफ्तार किया है जबकि राहुल कुमार, कौशल जायसवाल और अंकुश वात्स्यायन की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।  एसडीपीओ ने बताया कि इन अपराधियों के पास से लुटा गया मोटरसाइकिल, लुटा गया दो मोबाइल और कपड़ा दुकान से लुटे गए पैसों में 7500 रुपया और कांड के लिए प्रयुक्त स्कूटी भी बरामद किया गया है। एसडीपीओ ने बताया कि लुटा गया मोटरसाइकिल पुष्कर सिंह की निशानदेही पर हरिशरणम कुटिया के पास झाड़ी से बरामद किया गया है। इस मामले में गिरफ्तार सुमित ठाकुर और पंकज कुमार का आपराधिक इतिहास रहा है।

1 2 3 150
Facebook Comments Box