हेमंत सरकार और निशिकांत दुबे की लड़ाई में रुका देवघर एम्स का उद्घाटन

Share

देवघर में 26 जून को एम्स के ओपीडी का होने वाला उद‌्घाटन कार्यक्रम टाल दिया गया है। बताया जा रहा है कि भाजपा सांसद निशिकांत दुबे इस कार्यक्रम में सशरीर उपस्थित होना चाहते थे। लेकिन देवघर डीसी मंजूनाथ भजंत्री उन्हें वर्चुअल एंट्री देने पर अड़े थे। इस विवाद के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने देवघर एम्स ओपीडी का उद‌्घाटन ही टाल दिया।

सीएम के सचिव को गुरुवार को भेजे पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के इकोनॉमिक एडवाइजर निलंबुज शरण ने बताया कि 26 जून को देवघर एम्स के ओपीडी का उद‌्घाटन टाल दिया गया है। निलंबुज शरण ने यह पत्र सांसद निशिकांत समेत राज्य के मुख्य सचिव और एम्स देवघर के कार्यपालक निदेशक को भी भेजा है। बता दें बुधवार रात निशिकांत दुबे ने सोशल मीडिया पर लिखा एम्स के उद‌्घाटन कार्यक्रम में हेमंत सोरेन को मेरे सशरीर शामिल होने से परेशानी है। उनका आदेश है कि मैं देवघर में न रहूं। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने फैसला लिया है कि अगर सशरीर मेरी उपस्थिति होगी तो उद‌्घाटन होगा, अन्यथा कार्यक्रम रद्द होगा। वहीं देवघर डीसी मंजूनाथ भजंत्री अपनी बात पर अड़े रहे। गुरुवार को ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि किसी व्यक्ति विशेष को इस उद‌्घाटन कार्यक्रम में शामिल नहीं होने दिया जाएगा, ऐसा कहना गलत है। सांसद भी वर्चुअल माध्यम से ऑनलाइन उद‌्घाटन कार्यक्रम से जुड़ सकते हैं। चाहे प्रशासन के लोग हो या कोई और, हम सभी एक जिम्मेवार नागरिक की भांति कोविड गाइडलाइन का पालन करें। यह हम सब की जिम्मेवारी है। इन्हीं को ध्यान में रखकर तय हुआ है कि वर्चुअल तरीके से इसका उद‌्घाटन होगा।

Facebook Comments Box