कंगना रनौत के खिलाफ धनबाद कोर्ट में राष्ट्रद्रोह के तहत शिकायतवाद दायर… पद्मश्री को वापस लिए जाने की मांग…

Share

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ धनबाद कोर्ट में राष्ट्रद्रोह के तहत शिकायतवाद दायर किया गया है. कंगना के आजादी और गांधीजी पर दिए गए विवादित बयान को देशद्रोही और भारत को नीचा दिखाने वाला बताते हुए कोर्ट से एफआईआर दर्ज करने के लिए आदेश देने की मांग की गई है. इस मामले की सुनवाई 20 नवंबर को कोर्ट में होगी.

सामाजिक कार्यकर्ता इजहार अहमद उर्फ बिहारी ने अपने शिकायतवाद में कोर्ट से फिल्म अभिनेत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए आदेश देने की मांग की है. सामाजिक कार्यकर्ता इजहार अहमद ने कहा कि कंगना के बयान से उनको आघात पहुंचा है क्योंकि यह भारत को नीचा दिखाने वाला बयान है. सभी को मालूम है देश को आजादी कब मिली और कैसे मिली. उन्होने बताया कि पुलिस द्वारा एफआईआर दर्ज करने से इंकार के बाद वे कोर्ट पहुंचे हैं. उन्होंने कोर्ट से कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए आदेश देने की मांग की है. बता दें कि कंगना रनौत ने अपने एक बयान में कहा था कि ‘देश को आजादी 2014 के बाद मिली है उससे पहले मिली आजादी एक भीख थी’ इस बयान का पूरे देश में विरोध हो रहा है. अब इसी बयान को लेकर धनबाद कोर्ट में भी शिकायतवाद दायर किया गया है. कंगना के बयान के बाद दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल  ने देश के माननीय राष्ट्रपति को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने अभिनेत्री कंगना रनौत  को दिए गए पद्मश्री पुरस्कार को वापस लिए जाने की मांग की है. साथ ही उनके खिलाफ देशद्रोह का मामला चलाए जाने की अपील की है.

1 2 3 160
Facebook Comments Box