धनबाद में नहीं बुझी वासदेवपुर कोलियरी की आग… जारी है गैस का ‘तांडव’… विस्थापन के नाम पर केवल 35 हजार रुपये

Share

धनबाद के वासुदेवपुर कोलियरी में भूमिगत आग बढ़ता ही जा रहा है। जमीन के नीचे कोयले में लगी आग के कारण स्थानीय लोगों में दहशत है। पिछले दिनों संजय उद्योग आउटसोर्सिंग माइंस में जोरदार आवाज के साथ ब्लास्ट हुआ। इस ब्लास्ट के बाद तेजी से गैस का रिसाव शुरू हो गया था। इसके बाद से अबतक यहां गैस रिसाव जारी है। वहीं स्थानीय लोगों को विस्थापन के नाम पर केवल 35 हजार की राशि दी जा रही है।

बता दें वासुदेवपुर क्षेत्र में बीसीसीएल और झरिया पुनर्वास प्राधिकार समिति (JRDA) ने सर्वे शुरू कर वहां के लोगों के विस्थापन की बात शुरू कर दी है। अग्नि प्रभावित क्षेत्र के विस्थापितों का पुनर्वास भूली में किया जा रहा है। जहां ना तो बिजली है, ना पानी है और ना ही रहने के लिए छत। आग पर काबू पाने के नाम पर बीसीसीएल प्रबंधन आग पर मिट्टी डाल उसे ढंकने के अलावा कुछ और नहीं कर पा रही है। जिस खदान में आग धधक रही है और गैस रिसाव अभी भी हो रहा है, ठीक उसके ऊपर घनी आबादी वाली बस्ती बसी हुई है। वहीं आरजेडी नेता चंद्रदेव यादव इसे लोगों को हटाने के लिए एक सोची समझी साजिश बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीसीसीएल का सिर्फ कोयला उत्पादन बढ़ाना मकसद रह गया है। बीसीसीएल सुरक्षा की गारंटी की जिम्मेदारी से भाग रही है।वार्ड 12 के पार्षद प्रतिनिधि गोविंदा रावत ने कहा कि केंदुआ खटाल, केंदुआ चार नंबर और केंदुआ बाजार में करीब 20 से 25 हजार लोग यहां रहते हैं। आज की घटना से सभी भयभीत हैं। समय रहते इसका समाधान नहीं किया गया, तो आने वाले दिन में कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

1 2 3 71

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction