IIT धनबाद ने बदला अपना फीस स्ट्रक्चर, जानिए क्या हुआ बदलाव …

Share

आईआईटी धनबाद ने जुलाई-अगस्त से शुरू होनेवाले नए शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों फीस स्ट्रक्चर सभी कोर्स के लिए जारी किया है। कोरोना केस में अगर फिर से बढ़ोतरी होती है या किसी कारणवश सेमेस्टर की ऑनलाइन पढ़ाई होगी तो कई तरह के मद में छात्रों को फीस नहीं देनी होगी। वहीं अगर स्थिति सामान्य होती है और कैंपस में ऑफलाइन पढ़ाई की अनुमति मिलती है तो पूर्व की तरह ही सभी मद में फीस चुकानी होगी। आईआईटी धनबाद ने इससे संबंधित अधिसूचना जारी कर दी है।

सत्र 2021-22 की पढ़ाई ऑनलाइन होती है तो जेईई एडवांस छात्रों के लिए बीटेक, पांच वर्षीय इंट्रीग्रेटेड एमटेक, पांच वर्षीय डुएल डिग्री और प्रिपएरिटी कोर्स के लिए एनुअल चार्ज में वाटर चार्ज, बसंत उत्सव के लिए, स्पोर्ट्स फीस, हॉस्टल सीट, बिजली के लिए रुपए नहीं देने होंगे। वहीं ऑफलाइन पढ़ाई शुरू होते ही यह शुल्क लिया जाएगा। पीएचडी, एमटेक व अन्य कोर्स के लिए भी अलग-अलग फीस स्ट्रक्चर जारी किया गया है। वहीं हॉस्टल शुरू होने पर मेस चार्ज 15 हजार से 18 हजार रुपए प्रत्येक सेमेस्टर अतिरिक्त देने होंगे। आईआईटी आईएसएम कैंपस में छात्रों के लिए ऑफलाइन पढ़ाई शुरू करने को राज्य सरकार और जिला प्रशासन की अनुमति जरूरी होगी। राज्य सरकार की अनुमति और कोरोना महामारी नियंत्रित रही तो अगस्त या उसके बाद कैंपस खुल सकता है। फिलहाल तो राज्य में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के तहत लॉकडाउन लगा हुआ है। कैंपस प्लेसमेंट में चयनित या उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए पासआउट छात्र को कैंपस से किसी शैक्षणिक प्रमाण पत्र की जरूरत है तो उसे ईमेल के माध्यम से अनुमति लेने पर कैंपस आने दिया जा रहा है। यह ध्यान रखा जा रहा है कि सोशल डिस्टेंस का पालन हो।

You need to add a widget, row, or prebuilt layout before you’ll see anything here. 🙂