दुमका में एक मां ने ही बेटी को जलाकर मार डाला… गमछे से हुआ राजफाश…

Share

दुमका के शिकारीपाड़ा के कजलादाहा गांव में 15 मई की रात एक लडकी को उसी के घर में जला कर मार दिया गया था। इस हत्याकांड का खुलासा हो गया है बताया जा रहा है कि 14 साल की करीना कुमारी को उसकी मां ने ही जलाकर मारकर दिया था। सुनीता देवी (मां) ने गमछे से करीना का मुंह बांधकर शरीर पर केरोसिन डालकर आग लगाई थी। चार दिन थाने में चली पूछताछ के बाद शुक्रवार को पुलिस ने मां को ही कातिल मानते हुए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

इस मामले में एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी का कहना है कि चार दिन तक चली पूछताछ के बाद एक बार भी सुनीता ने यह स्वीकार नहीं किया कि उसने ही बेटी को मारकर जलाया है। करीना के मां का   आए दिन किसी न किसी के साथ घर से चली जाती थी। कुछ लोग घर भी मिलने के लिए आते थे। करीना इसका विरोध करती थी। इस बात को लेकर अक्सर कहा सुनी होती थी। कई बार पड़ोस के लोगों ने उसे घर में एक कांटा है, उसे साफ करने की बात सुनी थी। सोची समझी साजिश के तहत उसने पहले गमछे से बेटी का मुंह बांधा और केरोसिन डालकर जला दिया। मारने के बाद जब उसे पुलिस साथ ले जाने लगी तो उसने हत्या के समय पहने कपड़े बदल लिए। वहीं महिला ने पुलिस को बताया कि जिस समय बेटी जल रही थी तो अपने साया से आग बुझाने का प्रयास किया। महिला ने पानी रहते हुए आग बुझाने के लिए न तो इसका उपयोग किया और ना ही बचाने के लिए मदद की गुहार लगाई। वही पड़ोस की एक महिला का कहना है कि मां को बेटी के शव के समीप उसे खड़े देखा था। पुलिस ने घर से लाकर जब साया की जांच की तो वह कहीं से झुलसा नहीं था और उसमें केरोसिन की बदबू आ रही थी। मुंह बंद करने के लिए जिस गमछे का इस्तेमाल किया गया, उसे मां ने एक बक्से में रखा था। मृतका के बेटे ने भी यह बात स्वीकार की। पुलिस इन सारे प्रमाण के बाद महिला को दोषी मानते हुए गिरफ्तार किया।

1 2 3 109