गढ़वा में एक पिता कन्यादान से पहले पहुंचा जेल…

Share

गढ़वा के शादी के रमना प्रखंड के टंडवा गांव में शादी के शोर में कई लोग अपने जीवन को दांव पर लगाने में तुले हुए हैं। शादी के बहाने वे अपने घर में और रिश्तेदारों को बुला कर कोरोना को आमंत्रित कर रहे हैं। ऐसी ही एक घटना रात में रमना प्रखंड के टंडवा गांव में घटी है। जहां पुलिस ने कन्यादान के पहले ही दुल्हन के पिता के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार कर ले गई। बता दें कि टंडवा गांव के इंद्रदेव राम की बेटी की बारात उत्तर प्रदेश के कोन गांव से आई थी। वहां सरकार कि और से जारी की गई गाइडलाइन के नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही थी।

शादी के लिए सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन का उल्लंघन भी आम बात हो गई है। टंडवा गांव के इंद्रदेव राम की बेटी की बारात उत्तर प्रदेश के कोन गांव से आई थी। सरकार की ओर से शादी में मात्र 11 लोगों के शामिल होने की गाइडलाइन जारी की गई है। वहीं इंद्रदेव राम के द्वारा बेटी की बारात में ऑर्केस्ट्रा का आयोजन कर आसपास के गांव के लोगों को भी दावत दी गई थी। इसकी सूचना रमना थाना प्रभारी रणविजय सिंह को मिली तो उन्होंने फौरन पुलिस बल के साथ टंडवा गांव पहुंचकर ऑर्केस्ट्रा और डीजे साउंड के सारे सामान जब्त कर लिए। इसके साथ ही, दुल्हन के पिता इंद्रदेव राम, ऑर्केस्ट्रा के मालिक नंदू राम और डीजे साउंड के मालिक नीतीश यादव को भी पुलिस ने कस्टडी में ले लिया। हालांकि, बाद में दुल्हन के पिता को रस्म पूरी करने के लिए कुछ समय के लिए मुक्त कर दिया गया। इधर, घटना को लेकर थाना प्रभारी रणविजय सिंह ने बताया कि ‘पुलिस ने डीजे और ऑर्केस्ट्रा के सामान बरामद किए हैं।  नियम के उल्लंघन के आरोप में दुल्हन के पिता सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

1 2 3 73

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction