गढ़वा में दर दर ठोकरें खा रही है एक मां… कई लोगों से लगा चुकी गुहार…

Share

गढ़वा में एक मां अपनी पांच वर्षीया बेटी को पति की चंगुल से मुक्त कराने के लिए दर दर की ठोकरें खा रही है। उसके पति ने बच्ची को उससे छिन लिया है। सोमवार को कासमी खातून ने गढ़वा थाना में बच्ची को वापस दिलाने के लिए आवेदन देकर गुहार लगाई है। कहा जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के बिंढमगंज थाना क्षेत्र के बैरखंड़ निवासी मोहम्मद नेसार की पुत्री कासमी खातून की शादी 2013 में गढ़वा के फरठिया गांव के रहने वाला अलाउद्दीन के बेटे उम्मत रसूल के साथ हुई थी।

दो साल बाद दंपती को एक बच्ची हुई। इसके बाद दंपती में विवाद शुरू हो गया। बताया गया कि उम्मत रसूल ने कासमी खातून को मारपीट कर घर से निकाल दिया। इसके बाद कासमी खातून बच्ची को लेकर मायके में जाकर रहने लगी। कासमी खातून ने बताया कि पति की प्रताड़ना के कारण दो साल से ससुराल में आनाजाना बंद हो गया है। उसने बताया कि गढ़वा थाना क्षेत्र के धंगरडीहा में उसके मायके के लोग रहते हैं। फरवरी 2021 में उसका पति उम्मत रसूल वहां जाकर पांच वर्षीया बच्ची को उससे छिनकर अपने साथ ले गया। बाद में लोगों के समझाने पर बच्ची को उसे वापस किया। लेकिन दो अप्रैल 2021 को वह गढ़वा बाजार में आई थी। तब उम्मत रसूल ने उससे बच्ची को छीन कर ले गया। महिला ने बताया कि उसकी बच्ची अक्सर बीमार रहती है। उसे जानकारी मिली है कि बच्ची का सही तरीके से देखभाल नहीं हो रहा है। उसने बताया कि बच्ची को वापस पाने के लिए फरठिया के मुखिया समेत कई लोगों से गुहार लगा चुकी है। लेकिन कोई भी मदद नहीं कर रहा है।

1 2 3 74

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction