पत्नी करती थी बीमा… पति तीन करोड़ लेकर हुआ फरार

Share

गढ़वा में बीमा एजेंट का पति बीमा धारकों का तीन करोड़ रुपए प्रीमियम राशि लेकर फरार हो गया है। ठगी के शिकार कई ग्राहकों ने उसकी लिखित शिकायत एलआईसी के शाखा प्रबंधक से की है। बताया जाता है कि बीमा एजेंट सुधा वर्मा के कोड पर पति रविशंकर वर्मा बीमाधारकों से किस्त की राशि लेता था। ग्राहकों को विश्वास में लेकर किस्त लेने के बाद भी उसने राशि जमा नहीं कराई। ग्राहक जब भी उनसे रसीद मांगते थे तो वह टाल देता था।

रविशंकर वर्मा की ठगी का शिकार हुए लोगों में विभिन्न दुकानदार और उनके कर्मियों के अलावा कई दवा व्यवसायी भी हैं। केसरी ड्रग्स के प्रोपराइटर विवेक कुमार केसरी से पांच लाख रुपये, अभिषेक मेडिकल एजेंसी से 4.85 लाख, अंबे फॉर्मा से 10.69 लाख ठगने का आरोप लगाया है। ग्राहक उसके नंबर पर संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं, पर उसके बारे में कोई संपर्क नहीं हो पा रहा है। बताया जाता है कि वह जिला मुख्यालय में किराये के मकान में रहता था। 19 दिसंबर को उसने अपना मकान खाली कर दिया है। उसके बाद से ग्राहकों को जैसे जैसे उसके फरार होने की सूचना मिल रही है वैसे वैसे उसके बारे में पूछताछ कर जानकारी हासिल कर रहे हैं। ठगी का शिकार बना मो नसीर एक दुकान में आकर पूछता है भाई रविशंकर वर्मा के बारे में कुछ जानकारी है। पूछने पर बताते हैं कि वह करीब पांच लाख रुपये ठगी का शिकार बना है। बताते हैं कि रविशंकर ही उनसे एलआईसी का किस्त लेता था। उसके बदले में कभी भी रसीद नहीं दिया। करीब चार-पांच साल तक वह किस्त भरते रहे।

1 2 3 179
Facebook Comments Box