इसे अपराधियों की ‘ईमानदारी’ कहें या प्रशासन की लापरवाही…

Share

गिरिडीह  में पुलिसकर्मी और चौकीदार की लापरवाही सामने आई है। गिरिडीह समाहरणालय और एसडीएम ऑफिस के सामने हत्या और दहेज हत्या के अलावा दूसरे मामले में पकड़े गए चार आरोपियों की कमर में रस्सी बांधकर चौकीदार मस्त हो गया। यहां पर हत्या के आरोपी, दहेज हत्या के अलग-अलग कांडों के दो आरोपी और चोरी के एक आरोपी को बेंगाबाद से गिरिडीह आरोपियों की कमर में रस्सी बांधकर लाया जा रहा था। चारों को न्यायालय में पेश करना था लेकिन इन चारों की गिरफ्त में ढील दी गई।

 बेंगाबाद थाना पुलिस ने चर्चित स्कॉर्पियो ड्राइवर हत्याकांड में धर्मेंद्र कुमार सिंह को जमुई के खैरा से पकड़ा था। जबकि दहेज हत्या के मामले में बहादुरपुर के प्रवीण कुमार सिंह और दहेज हत्या के एक दूसरे मामले में पवन पंडित को सिहोडीह से पकड़ा गया था। वहीं चोरी के एक मामले में बहादुरपुर से एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया था। सोमवार को सभी चारों अभियुक्त को न्यायालय में पेश करने के लिए बेंगाबाद से गिरिडीह लाया गया। हद तो यह है कि अधिकारी अभियुक्तों को चौकीदार के जिम्मे पर लगाकर कागजी कार्रवाई करने के लिए कोर्ट के अंदर चले गए। यहीं पर चौकीदार ने चारों अभियुक्तों के कमर में रस्सी बांध दी और अपने मोबाइल से चोरी के एक आरोपी की बात उसके घरवालों से करवाने लगा। लापरवाही की हद तो देखिए कमर में बंधे रस्सी को चौकीदार ने अभियुक्त को ही थमा दिया। जब यह तस्विर कैमरे में कैद होने लगी तो चौकीदार को होश आया और रस्से को अपने हाथ में ले लिया।

1 2 3 179
Facebook Comments Box