गिरिडीह में बाप ने की बेटे की हत्या… इसलिए कुएं में डाल दी लाश…

Share

गिरिडीह के जमुआ में रिश्तों को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। एक पिता ने सगे बेटे की हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि 14 साल का बेटा शराब की व्यवस्था नहीं कर सका। इसके बाद उसकी पिटाई कर गला दबा दिया, और इसके बाद शव कुएं में फेंक दिया। जमुआ पुलिस को 24 घंटे के अंदर ही हत्या का पर्दाफाश करने और हत्यारे को हिरासत में लाने में सफलता मिल गई। हत्यारा चीकू वर्मा का सगा पिता विनोद वर्मा निकला। बता दें कि बीते शुक्रवार को जमुआ के सकिया बाद के एक कुएं से एक नाबालिग का शव मिला था। बाद में इसकी पहचान विनोद वर्मा के पुत्र चिकू वर्मा के रूप में की गई थी। खोरीमहुआ अनुमंडल प्रभारी एसडीपीओ नौशाद आलम ने बताया कि घटना को लेकर मृतक के मामा बेंगाबाद के मोतिलेदा निवासी संजय कुमार वर्मा ने जमुआ पुलिस को लिखित आवेदन दिया था।

बताया जा रहा है कि विनोद वर्मा की पहली शादी 1993 में मोतिलेदा में हुई थी। पहली पत्नी के लकवाग्रस्त हो जाने के बाद वर्ष 2007 में उसने दूसरी शादी कर ली। गुरुवार शाम में उसने अपने बेटे चीकू वर्मा को गांव से ही शराब खरीदकर लाने को कहा। पुत्र चीकू ने शराब लाने से इंकार कर दिया। इसके बाद उसे गुस्सा आ गया और उसके बाद और उसकी पिटई कर दी। इसमें वह बेहोश हो गया। बाद में एक व्यक्ति की मदद से बेहोश बेटे को उठाकर गांव के एक कुआं के पास ले गया। बेहोशी की हालत में चीकू को गर्दन दबा कर मार डाला इसके बाद में शव को कुआं में डाल दिया। आरोपी विनोद महतो ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। रविवार को उसे जेल भेज दिया गया।