गिरीडीह में नक्सलियों की पुलिस को उड़ाने की नापाक योजना नाकाम… 20-20 किलो के चार आईईडी केन मिले

Share

गिरिडीह में एक बार फिर नक्सलियों ने पुलिस अभियान को नुकसान पहुंचाने के मंसूबे से 20-20 किलो के चार केन बम प्लांट किए थे, जिसकी गुप्त सूचना ज़िला के एसपी अमित रेनू को मिल गई थी। सूचना मिलते ही एसपी के निर्देश पर कर्मगड्ढा से टेसाफुली गांव तक पहुंचने वाली सड़क की जांच के बाद इस साज़िश को नाकाम किया गया।

पारसनाथ के मधुबन थाना के टेसाफूली गांव तक पहुंचने वाली सड़क की पुलिया को धमाके से उड़ा देने की नक्सलियों की साज़िश नाकाम करने के लिए पुलिस ने टेक्निकल मदद ली। तकनीकी जांच के माध्यम से टेसाफूली से पहले घोरमरवा गांव के पास पुलिया के नीचे 4 कैन बम पाए गए। बम निरोधक दस्ते ने सावधानी बरतते हुए सुरक्षित स्थान पर ले जाकर बम डिफ्यूज़ कर​ दिए और इस तरह एक बड़ी जानलेवा वारदात को रोक लिया गया। एसपी अभियान गुलशन तिर्की ने बताया कि पारसनाथ क्षेत्र को नक्सल मुक्त करने के लिए प्रशासन लगातार नक्सलियों के विरुद्ध छापेमारी कर रहा है इसलिए घबराए नक्सली पुलिस बल को नुकसान पहुंचाने के लिए साज़िशें लगातार कर रहे हैं। पुलिसिया सूचना तंत्र की तारीफ करते हुए तिर्की ने बताया कि हाल में पीरटांड़ थाना क्षेत्र में भी पुलिया से 10 किलो का एक आईडी बरामद किया गया था। तिर्की के मुताबिक नक्सलियों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा। नक्सलियों तक मदद पहुंचने के रास्ते बंद कर रेड कॉरिडोर को ध्वस्त किया जा रहा है।

1 2 3 93