झारखंड: केंद्र सरकार से मिलने वाला राशन हड़प गए राज्य सरकार के अधिकारी ?….बड़ा खुलासा

Share

गिरिडीह: हमेशा डाका गरीब की जेब और थाली पर पड़ता है इस बार तो अधिकारियों ने गरीब की रोटी ही हज़म कर ली है. झारखंड के गिरिडीह जिले में बड़ा घोटाला सामने आया है। जिले के बेंगाबाद प्रखंड के अंतर्गत आने वाले मानजोरी पंचायत के दूंदो गांव में प्रधाानमंत्री गरीब कल्‍याण योजना में घोटाले का मामला सामने आया है. आरोप है कि अधिकारियों से मिलीभगत कर PDS डीलर गरीबों का अनाज डकार गए. लाभुकों को योजना के तहत मिलने वाला तीन महीने का राशन नहीं दिया गया है. राज्‍य सरकार की ओर से भी गरीब लोगों को राशन दिया जाता है. लाभुकों को केंद्र के साथ ही राज्‍य की योजना के तहत मिलने वाला अनाज भी नहीं दिया गया. अनाज नहीं मिलने पर लोगों ने इसकी शिकायत की है. बता दें कि कोरोना महामारी के दौरान केंद्र की ओर प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण योजना के तहत अनाज दिया जाता है, ताकि गरीबों का चूल्‍हा बंद न हो, लेकिन इस पर भी घोटालेबाजों की नजर पड़ गई है.

जानकारी के मुताबिक, लाभार्थियों को हर महीने दो बार राशन मिलना था. एक राज्य सरकार की तरफ से और दूसरा केंद्र सरकार की तरफ से. लेकिन, डीलरों द्वारा केंद्र सरकार की ओर से दिया जाने वाला राशन तो दूर, राज्‍य सरकार द्वारी हर महीने दिया जाने वाला राशन भी अधिकारियों से मिलीभगत कर के गबन कर लिया गया. पीडीएस डीलर द्वारा लगातार किए जा रहे धांधली से तंग आकर लाभार्थी शिकायत करने बेंगाबाद अंचल कार्यालय पहुंचे. उन्‍होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी से इसकी शिकायत की है.

गिरिडीह जिले के विभिन्न प्रखंडों से पीडीएस राशन वितरण में लगातार अनियमितता की खबरें सामने आ रही हैं. जगह-जगह पर लाभुकों द्वारा विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है. इसके बावजूद सक्षम अधिकारी पीडीएस डीलरों द्वारा किए जा रहे इस धांधली पर लगाम लगाने में नाकाम साबित हो रहे हैं. बताया जाता है कि जितने भी पीडीएस घोटाले हो रहे हैं, उनमें सभी पदाधिकारी कथित तौर पर शामिल हैं। जब लाभुकों द्वारा शिकायत की जाती है तो उन्हें आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिलता है। सिर्फ कह दिया जाता है कि मामले को संज्ञान में लिया गया है।

Facebook Comments Box