पत्नी की मौत पर पति को पड़ा दिल का दौरा… एक ही घर से निकली दो अर्थी…

Share

 पलामू के छतरपुर में एक व्यवसायी को उसकी पत्नी की मौत का ऐसा सदमा लगा कि उसकी भी जान चली गई। सोमवार को पति-पत्नी दोनों की अर्थी एक साथ घर से निकली। और एक साथ ही अंतिम संस्कार किया गया।

बताया जा रहा है कि कपड़ा व्यवसायी विश्वनाथ गुप्ता की पत्नी लीलावती देवी (62) कुछ दिनों से बीमार चल रही थीं। सोमवार की सुबह घर पर उनकी मौत हो गई। परिवार के लोग उनके अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहे थे। 8 बजे दाह-संस्कार के लिए जब शव को घर से श्मशान घाट ले जाने की पूरी तैयारी हो चुकी थी, उसी वक्त मृतक के पति विश्वनाथ गुप्ता (65) की तबीयत अचानक बिगड़ गई।

विश्वनाथ गुप्ता को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनके मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया। पति-पत्नी दोनों के इस तरह मौत के बाद इलाके में शोक की लहर दौड़ गई। छतरपुर के मन्देया नदी तट पर दंपती का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया। दंपती के चार बेटा और तीन बेटी हैं।

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction