जमशेदपुर में रंगदारी नहीं देने पर सर्राफा कारोबारी को मारी गोली… सवालों के घेरे में जमशेदपुर पुलिस

Share

जमशेदपुर के उलीडीह के खनका के पास एक व्यक्ति को रंगदारी नहीं देने पर गोली मार दी। बताया जा रहा है कि गुरुवार रात आठ बजे अजय ज्वेलर्स के मालिक अजय वर्मा को राजा थापा ने 30 हजार रुपये रंगदारी नहीं देने पर गोली मार दी। फायरिंग के बाद वहां अफरा-तफरी मच गई। घायल खुद बाइक चलाकर एमजीएम अस्पताल पहुंचा। वहां प्राथमिकी उपचार के बाद उसे टाटा मुख्य अस्पताल रेफर कर दिया गया। सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट मौके पर पहुंचे। घायल से पूछताछ कर मामले की पूरी जानकारी ली।

इस मामले में अजय वर्मा ने बताया कि रंगदारी के लिए राजा थापा ने उस पर गोली चलाई। फायरिंग करने वाले के साथ चार-पांच और युवक भी थे। अंधेरा होने के कारण वह उन्हें नहीं पहचान पाया। अजय उलीडीह शंकोसाई रोड नंबर पांच का रहनेवाला है। शंकोसाई पांच नंबर मुख्य सड़क पर उसकी दुकान है। अजय वर्मा ने बताया कि वह खनका की ओर घूम रहा था। उसी दौरान अपराधियों ने उसे घेर लिया। मारपीट करने लगे। राजा थापा ने फायरिंग कर दी। अजय वर्मा का कहना है कि 22 मई को उसकी दुकान पर राजा थापा के साथ आठ-दस युवक आए। उससे रंगदारी मांगी। गुटखा खिलाने को कहा। उसने कहा कि रुपये नहीं है तो मारपीट करने लगे। गले से चेन खींच लिया। जान से मारने की धमकी दी। उसने इसकी शिकायत उलीडीह थाना प्रभारी को दी। प्रभारी ने कार्रवाई के बजाय उससे कहा कि सीसीटीवी फुटेज में कुछ नहीं दिख रहा। अगर पुलिस कार्रवाई करती तो उस पर फायरिंग नहीं होती। घटना पुलिस की लापरवाही है। गौरतलब है कि उलीडीह थाना प्रभारी की ऐसी कई शिकायत वरीय पुलिस अधिकारियों से की गई है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। वहीं भाजपा नेता विकास सिंह अजय वर्मा से मिलने के बाद घटना में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की है। विकास सिंह का कहना है कि उलीडीह थाना में अपराधी बेलगाम है। थाना प्रभारी सही ढंग से किसी की बात नहीं सुनते। शिकायत पर कार्रवाई नहीं करते हैं जिसका परिणाम आभूषण दुकानदार पर फायरिंग की घटना है।

1 2 3 116
Facebook Comments Box