जमशेदपुर: पिता की ‘अंधविश्वास’ की जंजीरों स मुक्त हुई बेटी…महीने भर से थी बंधक…यौनशोषण का आरोप भी लगाया

Share

क्या कोई पिता सगी बेटी को बंधन बनकर यौन शोषण कर सकता है. ये बात सुनकर दिल और दीमाग दोनों अंदर से हिल जाता है. यकीन बिलकुल नहीं होता कि ऐसा भी हो सकता है. लेकिन जमशेदपुर के परसुडीह के मकदमपुर की एक युवती ने ऐसे ही गंभीर आरोप अपने पिता पर लगाए हैं. युवती का आरोप है कि उसका पिता उसे बिष्टुपुर के बेली बोधनवाला गैरेज के पास स्थित कर्बला में जंजीर से बांधकर रखता था. उसे कुछ नशीला पानी पिलाता था, इसके बाद वो अपना होश खो बैठती थी. युवती ने अपने पिता पर यौन शोषण का भी आरोप लगाया है. गांव वालों की माने तो रफीक नाम के व्यक्ति ने अपनी बेटी के एक हमीने से कर्बला में जंजीर से बांधकर रखा था. स्थानीय लोगों के जरिए जब जानकारी पुलिस तक पहुंची तो युवती को जंजीर से मुक्त कराया गया.

उधर इस मामले में हिरासत में लिए गए रफीक के मुताबिक उसकी बेटी की मानसिक हालत ठीक नहीं थी. इस वजह से उसे कर्बला में जंजीर से बांधकर रखा गया था. उसका मानना था कि कर्बला में जंजीर से बांधकर रखने से उसकी बेटी ठीक हो जाएगी. बेटी के यौन शोषण के लगाए आरोप को रफीक ने झूठा बताया है. उसके मुताबिक उसने बेटी को जंजीर से बांधकर रखा था, इसलिए उसकी बेटी ऐसा आरोप लगा रही है. रफीक के मुताबिक उसकी तीन बेटी है, जबकि सिर्फ उसने इसी बेटी को जंजीर से बंधा था. उधर लड़की को मुक्त करना के बाद पुलिस ने युवती का मेडिकल जांच कराया है. रिपोर्ट आने के बाद साफ होगा कि लड़की ने जो आरोप अपने पिता पर लगाए हैं वो सच्चे हैं या झूठे.

1 2 3 157
Facebook Comments Box