116 दिन बाद मिला गायब राहुल का कंकाल… हुआ सनसनीखेज खुलासे

Share

जमशेदपुर से लापता राहुल श्रीवास्‍तव का कंकाल चांडिल डैम के पास पहाड़ी से बरामद किया गया है. बता दें मानगो पुष्पांजलि अपार्टमेंट में रहने वाले राहुल श्रीवास्तव पिछले 116 दिनों से गुमशुदा थे. इस हत्‍याकांड में शामिल 2 आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने राहुल का नरकंकाल बरामद किया है. आरोपियों ने MGM थाना की पुलिस को बताया कि उसने राहुल के सिर को पत्‍थर से कुचलकर उसकी हत्‍या की थी.

पुलिस ने गुप्‍त सूचना के आधार पर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया. हत्‍यारोपियों ने राहुल को मारने का जुर्म कबूल किया है. स्‍थानीय एमजीएम पुलिस ने राहुल का नरकंकाल तकरीबन 4 महीने बाद चांडिल डैम के पास स्थित पहाड़ी पर से बरामद किया है. पुलिस ने घटनास्‍थल से कपड़े और बालों को साक्ष्य के तौर पर जब्त किया है. आरोपियों के पास से पुलिस ने लूटी हुई कार और मोबाइल को भी बरामद कर लिया है. राहुल श्रीवास्‍तव ओला कैब्‍स में कार्यरत थे. गिरफ्तार हत्‍यारोपियों की पहचान गम्हरिया निवासी रवींद्र महतो और उसके साथी सुधीर कुमार शर्मा के तौर पर की गई है. इन दोनों ने पूछताछ में सनसनीखेज खुलासे किए हैं. राहुल हत्याकांड का खुलासा कॉल डिटेल के आधार पर किया गया. राहुल के फोन पर अंतिम कॉल एक महिला की थी. महिला से जब पुलिस ने संपर्क किया तो उसने बताया कि दो युवक ने उसका मोबाइल फोन इस्तेमाल किया था. इसके बाद पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया था. एमजीएम थाना प्रभारी मिथिलेश कुमार ने बताया कि मृतक राहुल अपनी कार ओला कैब्‍स में चलाता था. 1 अगस्त को रविंद्र महतो और सुधीर कुमार शर्मा ने साजिश के तहत आदित्यपुर में चाय बेचने वाली एक महिला के मोबाइल से राहुल को फोन कर चांडिल जाने के लिए कार को बुक कराया था.

1 2 3 160
Facebook Comments Box