झारखंड: एसीबी की बड़ी कामयाबी… 3 जिलों के भ्रष्ट रिश्वतखोर अधिकारी हिरासत में…

Share

झारखंड : अगर प्रशासन कड़ाई के साथ शासन करें तो समाज में भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी ,कालाबाजारी ,और चोरी, की कोई जगह नहीं रहेगी झारखंड में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक साथ तीन जिलों में टीम ने भ्रष्ट अधिकारियों को गिरफ्तार किया। एसीबी ने यह कार्रवाई हजारीबाग, बोकारो और गढ़वा में की। बोकारो में प्रखंड संयोजक, गढ़वा में एक क्लर्क तो हजारीबाग में कर्मचारी घूस लेते रंगे हाथों पकड़े गए। जरीडीह प्रखंड में पीएम आवास योजना के प्रखंड संयोजक दीपक कपरदार को शुक्रवार को जैनामोड़ दुर्गा मंदिर के सामने से रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। यह कार्रवाई धनबाद एसीबी की टीम ने की। एसीबी ने बांधडीह दक्षिणी पंचायत के ग्राम प्रधान हाकिम प्रधान की शिकायत पर कार्रवाई की थी। उन्होंने शिकायत की थी कि दीपक कपरदार तीन हजार रुपये लेकर योजना की पहली किस्त की राशि दे रहा है। इसके बाद एसीबी की टीम ने योजना बनाकर दुर्गा मंदिर के पास उसे पैसे लेते रंगे हाथ धर लिया।

वहीं, पलामू एसीबी की टीम ने शुक्रवार को गढ़वा महालेखागार कार्यालय के लिपिक रविन्द्र पांडेय को घूस लेते हुए पकड़ा। खतियान का नकल निकालने के एवज में लिपिक 4500 रुपये की घूस कार्यालय में ही ले रहा था। उधर, हजारीबाग के नेशनल हेल्थ मिशन के डिस्ट्रिक्ट डेटा मैनेजर निरंजन अंबष्ट को एसीबी ने रंगे हाथों घूस लेते गिरफ्तार किया। वे एक निजी क्लिनिक के रिन्युअल के लिए 4 हजार रुपये की घूस ले रहे थे। गिरफ्तारी के बाद उनके शिवपुरी स्थित आवास पर भी एसीबी टीम ने छापेमारी की।

1 2 3 150
Facebook Comments Box