अगर आप में है ये लक्ष्ण तो नहीं लगवाएं टीका

Share

16 जनवरी को हुए सबसे बड़े टीकाकरण और उसके बाद कुछ लोगों को परे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों पर गौर करें तो सोमवार को शाम पांच बजे तक 3,81,305 लोगों का टीकाकरण हुआ और टीकाकरण के बाद 580 लोगों में साइड इफेक्ट देखने को मिले, इसे देखते हुए कोरोना वैक्सीन बनाने वाली दोनों कंपनियों ने फैक्टशीट जारी की है, दोनों ही कंपनियों ने लोगों को सुझाव दिए हैं, कि अगर आपको किसी तरह की परेशानी है तो कोरोना की वैक्सीन बिलकुल ना लगवाएं,

क्या कहती है कोवैक्सीन बनाने वाली भारत बायोटेक

कोवैक्सीन बनाने वाली भारत बायोटेक ने फैक्टशीट जारी की और कहा कि कमजोर इम्युनिटी वाले और इम्युनिटी बढ़ाने की दवा ले रहे मरीज कोवैक्सिन ना लगवाएं, ऐसे लोगों को वैक्सीन लगवाने के बाद एलर्जी की परेशाने का सामना करना पड़ सकता है, साथ ही अगर आपको बुखार है तो भी वैक्सीनेशन कराने से परहेज करें।

कोविशिल्ड बनाने वाली सीरम क्या बोली

बुखार, खून की किसी बीमारी से पीड़ित या फिर आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है तो फिर टीके से दूरी बना कर रखें, अगर आप इम्यूनिटी सिस्टम बढ़ाने की कोई दवा ले रहे है तो कोविशील्ड से दूर रहे, कोविशील्ड की पहली डोज लेने के बाद अगर एलर्जी की शिकायत हो तो कोविशील्ड से उचित दूरी बना कर रखें, आपको किसी भी दवा, खाद्य सामग्री, किसी भी टीके से कभी किसी तरह की कोई एलर्जी की शिकायत हुई, तो कोविशील्ड बिल्कुल न लगाएं।

 अगर आप गर्भवती महिला हैं या निकट भविष्य गर्भधारण करने का प्लान कर रही हैं, या आप स्तनपान कराते हैं को फिर टीकाकरण से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

साइड इफेक्ट कैसे जाने और क्या करें

अगर आपको वैक्सीनेशन के बाद अचानक दिल की धड़कन बढ़ती है,  चेहरे और गले में सूजन सांस लेने में दिक्कत, शरीर में चकत्ते पड़ गए हैं, या फिर बेहोशी या कमजोरी हो रही है, तो बिलकुल देर ना करें, सीधे डॉक्टर से पास जाएं और पूरी परेशानी के बारे में डॉक्टर को बताएं…

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction