कोडरमा में एक पिता की एसपी से फरियाद बांट दो संपत्ति नहीं तो बेटा और मारेगा…

Share

कोडरमा में एक नया मामला सामने आया है। जहां एक पिता संपत्ति के बंटवारे की गुहार लगा रहे हैं। चंदवारा का रहने वाला सलामत मिया (65 वर्ष) ने पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है।

इस आवेदन में लिखा गया है कि बरही से रजौली रोड में मेरा जमीन अधिग्रहण किया गया। जिसकी राशि मुझे मिली है। मेरे 4 लड़के तथा दो लड़की है। मेरा बड़ा लड़का जैनुल अंसारी उसकी पत्नी रुखसाना खातून, जमशेद अंसारी और उसकी पत्नी आसमा खातून सभी मेरे साथ मारपीट कर जलील करते रहते हैं। घरेलू विवाद से परेशान होकर कुछ दूर घर बनाकर अपने मंझले और छोटे बेटे के साथ रहने लगा। कुछ दिन पहले मंझला बेटा मो. खलील और बहु बाहर गये थे और छोटा बेटा फयाज अंसारी दिल्ली मजदूरी करने गया। तब मेरे बड़े बेटे जैनुल अंसारी उसकी पत्नी रुकसाना खातून, जमशेद अंसारी और उसकी पत्नी आसमा खातून को हुई तो वे सभी जान मारने की नीयत से जबरन घर में घुस कर गाली गलौज करने लगे। साथ ही रूपया और सारे संपत्ति की मांग करने लगे। गुरुवार सुबह चन्दवारा थाना गया। वहां के एएसआई दिलशाद अली ने थाना प्रभारी से नहीं मिलने दिया। कहा कि यह केस हम ही सुलझाएंगे। बाहर बैठ कर बेटा बहू को बुला कर नईम अंसारी मुखिया से फोन पर बात करने के बाद बोला कि अपना सारा रूपया सम्पति अपना बेटा लोगों को दे दो। नहीं तो सब और मारेगा, अब कोई कुछ नहीं करेगा। तुम्हारा वीडियो न कोई देखेंगें, न कोई केस दर्ज करेंगे, न कोई कार्रवाई करेंगे। चार दिन के अंदर सारा रुपया पैसा बेटा लोगों को बांट कर आना। वहीं इस बाबत चंदवारा थाना के एएसआई दिलशाद अली ने बताया कि इस मामले को अपने स्तर से जांच कर सुलझाने का प्रयास किया था।लेकिन आवेदनकर्ता आगे की कार्रवाई करने पर अड़े रहे। इनके द्वारा बताया गया कि इस मामले को लेकर धारा 107 की प्रक्रिया की गई थी।

1 2 3 150
Facebook Comments Box