सरायकेला में 24 घंटे हो रहा मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन… कोरोना संक्रमितों की जान बचाने के लिए दिन रात काम कर रहे लोग…

Share

कोरोना संक्रमण के कारण हर कोई परेशान है। ऑक्सजीन की कमी के वजह से कई लोगों की मौत भी हो रही हैं। सप्लाई से कई गुना ज्यादा ऑक्सीजन की डिमांड है। ऐसे में सरायकेला में अब 24 घंटे मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन हो रहा है। इसके लिए इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन के उत्पादन को रोक दिया गया है। ऑक्सीजन के उत्पादन के लिए मजदूर दिन रात काम कर रहे हैं ताकि कोरोना मरीजों की जान बचाई जा सके। आपको बता दें कि सरायकेला औद्योगिक क्षेत्र एशिया का सबसे बड़ा लघु औद्योगिक क्षेत्र है और यहां ऐसे उद्योग भी हैं जो लगातार मेडिकल ऑक्सीजन का निर्माण करते हैं।

यहां काम करने वाले लोग बताते हैं कि खाना खाने के लिए भी ज्यादा समय नहीं लेते हैं और ऑक्सीजन के उत्पादन के लिए लगातार तत्पर हैं. उनकी प्राथमिकता कोरोना मरीजों की जान बचाना है और अभी के हालात को देखते हुए ज्यादा से ज्यादा ऑक्सीजन उत्पादन करना हैं। इसके बारे में कंपनी के मैनेजर अमरेंद्र पांडे ने बताया कि  250 यूनिट प्रति घंटे के हिसाब से उत्पादन हो रहा है। अलग से स्टोरेज टैंक भी रखे हैं। अगर प्लांट में कोई दिक्कत आती है तो स्टोरेज टैंक से ऑक्सीजन की सप्लाई जारी रहेगी।

वहीं उपायुक्त का कहना है कि जिले के सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन को लेकर वे लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं। स्थानीय उद्योगों के साथ-साथ सामाजिक संगठनों के माध्यम से ऑक्सीजन गैस सिलेंडर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। उनकी यह कोशिश है कि कोरोना मरीज को किसी भी हाल में दिक्कत न हो। सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन की सप्लाई जारी है।

Facebook Comments Box