विधायक खरीद-फरोख्त मामला: साजिश का सच खोलेगा कमरा नंबर 310…

Share

झारखंड का सियासी बवाल हर पल नए नाटकीय मोड़ ला रहा है। सरकार गिराने की साजिश आठ विधायकों की खरीद फरोख्त की खबरों ने झारखंड की सियासत में सनसनी फैला रखी है। इस केस में कांग्रेस का एक अहम रोल सामने आया है। कहा जा रहा है कि कांग्रेस विधायक जय मंगल सिंह उर्फ अनूप सिंह की शिकायत के बाद ही पुलिस ने ये कार्रवाई की और तीन लोगों की होटल से गिरफ्तार कर राजद्रोह के केस में जेल भी भेज दिया गया। आरोपियों के पास से मिले चार सूटकेस में क्या है यह भी रहस्य बना हुआ है।

सरकार के खिलाफ साजिश रचने वाले तीन व्यक्तियों अभिषेक दुबे, अमित सिंह और निवारण महतो की गिरफ्तारी कहां से हुई है यह अभी तक रांची पुलिस ने क्लियर नहीं किया है। जहां तक तीनों के परिजनों ने दावा किया है कि गिरफ्तारी घर से हुई है। बता दें पुलिस ने होटल के कमरे से काफी सामान बरामद किया है तो ऐसे में पुलिस को यह बताना चाहिए कि आखिर वह सामान किसका है। पुलिस ने रांची के होटल लिलेक में छापेमारी कर चार सूटकेस, दो लाख रुपये नगद, कई हवाई टिकट, कई मोबाइल फोन के साथ साथ कई कागजात जब्त किए हैं। यह सभी सामान होटल के कमरा नंबर 310 से बरामद किए गए हैं। पुलिस ने जब्त की सूची में इन सभी सामानों को शामिल किया है। पुलिस का दावा है कि रांची के होटल लिलेक के तीन कमरों से सरकार के खिलाफ साजिश रची जा रही थी। ऐसी सूचना पर पुलिस की टीम ने होटल पर रेड किया था, लेकिन सभी आरोपियों की गिरफ्तारी उनके घरों से हुई ना कि होटल से अब सवाल यह है कि आखिर होटल लिलेक के तीन कमरों में कौन रुका हुआ था। पुलिस इसका खुलासा क्यों नहीं कर रही है।

1 2 3 116
Facebook Comments Box