पलामू में 18 महीने के बच्चे की हत्या की कोशिश, पीड़िता के परिवार ने छोड़ा गांव

Share

पलामू के पांडु में 18 महीने के बच्चे को पटक कर हत्या का प्रयास किया गया। इस घटना में बच्चे की मां, मामा और नानी गंभीर रूप से जख्मी हो गए है। बताया जा रहा है कि बच्चे कि हत्या की कोशिश करने वाला आरोपी 23 वर्षीय बिन ब्याही मां को मुकदमा वापस लेने की धमकी दे रहे है। इस मामले में पीड़िता ने पांडु थाना से भी संपर्क किया, लेकिन उसे कोई सहायता नहीं मिली।

बता दें पांडु की रहने वाली पीड़िता जूलॉजी में मास्टर डिग्री की है। हमलावर पीड़िता का प्रेमी मिथिलेश कुमार है, जो पांडु के रतनाग का रहने वाला है. मिथिलेश वन विभाग में गार्ड है। पीड़िता और आरोपी मिथिलेश के बीच 2017 में पढ़ाई के दौरान प्रेम से संबंध हुए थे। पीड़िता के गर्भवती होने के बाद आरोपी मिथिलेश कुमार ने शादी से इंकार कर दिया। जिसके बाद अप्रैल 2019 में पीड़िता ने टाउन महिला थाने में एफआईआर दर्ज करवाई थी। एफआईआर के बाद पीड़िता को मुकदमा वापस लेने की धमकी मिली थी। बाद में महिला थाना ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। मामले में महिला थाना ने आरोपी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी है। पीड़िता ने बताया कि आरोपी मिथिलेश के कहने पर उसके चाचा भक्तु पाल, अमृत पाल ने उन पर हमला किया। इस हमले में पीड़िता के भाई का हाथ टूट गया है जबकि 18 महीने के बच्चे को पटक दिया गया। घटना के बाद परिवार दहशत में है और गांव छोड़कर भाग गया है। बिश्रामपुर एसडीओपी सुरजीत कुमार ने बताया कि मामले में पांडु थाने को एफआईआर दर्ज करने को कहा गया है। पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। ऐटक के राजीव कुमार और समाजसेवी ज्योति सिंह ने कहा कि मामले में परिवार को सुरक्षा देने की जरूरत है। पीड़ित दहशत में है। दोनों ने बताया कि मामले में कई कानूनी पहलुओं पर विचार किया जा रहा है।

1 2 3 159
Facebook Comments Box