गैंगरेप मामलें में पति समेत 3 दोषियों को 20-20 साल की सज़ा

Share

पलामू जिला एवं सत्र न्यायाधीश के.पी.एन पांडेय की अदालत ने गैंगरेप  के जुर्म में तीन दोषियों को बीस-बीस वर्ष की कठोर कारावास  सुनाई है. साथ ही इसमें सहभागी रही एक महिला को दस वर्ष की सजा सुनायी गई है. फैसले का विवरण देते हुए वरिष्ठ वकील सुधा पांडेय ने बताया कि न्यायालय ने तीनों दोषियों को कारावास के अतिरिक्त उन पर 20-20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है. जुर्माने की राशि नहीं देने पर सभी दोषियों को छह-छह माह के अतिरिक्त कारावास की सजा काटनी होगी.

पांडेय के अनुसार इसी तरह अदालत ने महिला दोषी पर भी दस हजार रुपये का जुर्माना लगाया है और राशि नहीं देने पर उसकी भी सजा छह माह बढ़ाई जाएगी. उन्होंने बताया कि यह मामला मनातू थाना क्षेत्र के रहैया गांव का है, जहां की तब्बसुम खातून ने 16 दिसंबर, 2016 को यह आरोप लगाया था कि उसके शौहर अफजल अंसारी, नौशाद अनवर और बबलू सिंह उर्फ विक्रम राजा ने उसके साथ गैंगरेप किया था, और इस घटना का मोबाइल से वीडियो बनाया था. इसमें बबलू सिंह पांकी के पूर्व कांग्रेस विधायक देवेन्द्र प्रसाद सिंह उर्फ बिट्टू सिंह का सौतेला भाई है. अदालत ने बलात्कारियों को सहयोग करने वाली गुंजा बीवी को उन दोषियों का साथ देने के अपराध में दस साल की कैद की सजा सुनायी है. साथ ही उस पर दस हजार रुपये का जुर्माना लगाया है.

1 2 3 179
Facebook Comments Box