परमेश्वर हत्याकांड का खुलासा .. जेपीसी के नक्सलियों ने इसलिए कर दी थी दिनदहाड़े हत्या…

Share

झारखंड की चतरा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। जिले की सिमरिया पुलिस ने 17 जनवरी को पिरी बाज़ार में दिनदहाड़े हुई परमेश्वर साव की हत्या का खुलासा किया है। सिमरिया के एसडीपीओ अशोक रविदास की अगुवाई में चलाए गए खास ऑपरेशन में जेपीसी गिरोह के 5 अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार किए गए। सभी अपराधी इससे पहले जेपीसी नाम के नक्सली गिरोह के सदस्य थे। पुलिस ने सिमरिया के बोगादाग से दो और हुरणाली गांव से तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से पुलिस ने 315 बोर की दो रायफ़ल,51 ज़िंदा कारतूस,AK-47 के तीन ज़िंदा कारतूस,एक देसी कट्टा आदि बरामद किया है।  चतरा के एसपी ऋषभ झा ने गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस करके इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पूर्व में गिरफ्तार किए गए इन्ही पांचो ने जेल से निकलकर परमेश्वर के कत्ल की साज़िश रची थी। परमेश्वर चूंकि पुलिस का साथ देते थे इसीलिए इन लोगों ने उनकी हत्या की। उन्होंने बताया कि यह अपराधी अपना गिरोह बनाकर इलाके में वारदात को अंजाम देते और दहशत फैलाते थे। इसके साथ ही यह लेवी भी वसूलते थे।