झारखंड में 9वीं और 11वीं के बच्चों को अगली कक्षा में किया गया प्रमोट… सेकेंड्री डायरेक्टर का आदेश जारी

Share

झारखंड में 9वीं और 11वीं के बच्चों को बिना परीक्षा के ही पास कर दिया गया है। राज्य में 8 लाख बच्चे सीधे अगली कक्षा में प्रमोट कर दिए गए हैं। इस बाबद सेकेंड्री डायरेक्टर हर्ष मंगला ने आदेश जारी कर दिया है। यह धनबाद, बोकारो, गिरिडीह, जामताड़ा, दुमका, देवघर, गोड्डा, पाकुड़, साहिबगंज के हजारों छात्रों के लिए खुशी की खबर है। बिना परीक्षा के छात्र-छात्राओं को अगली कक्षा में प्रमोट करने का निर्णय कोरोना महामारी के मद्देनजर जिला गया है। झारखंड समेत पूरे देश में कोरोना महामारी का कहर चल रहा है। इस कारण झारखंड में 22 अप्रैल से लॉकडाउन जारी है। 10वीं बोर्ड के स्टूडेंट्स को अगली कक्षा में प्रमोट करने का निर्णय पहले ही हो चुका है। परीक्षाओं का आयोजन झारखंड एकेडमिक काउंसिल की ओर से होना था।

बता दें 9वीं में 4.50 लाख और कक्षा 11वीं की परीक्षा में शामिल होने के लिए 3.50 लाख परीक्षार्थियों ने आवेदन जमा किया था। राज्य में कोविड के कारण जो हालात हैं इसे देखते हुए अगले दो महीने तक स्कूल खुलने की संभावना नहीं दिख रही है। सेकेंड्री डायरेक्टर हर्ष मंगला ने अपने आदेश में कहा है कि सत्र 2021-22 के शुरू हुए लगभग दो महीना बीत चुका है। ऐसी स्थिति में अगर इन्हें अगली कक्षा में प्रमोट नहीं किया गया तो 10वीं और 12वीं के सिलेबस को समय से पूरा करने में परेशानी होगी। यह आदेश केवल इसी साल के लिए प्रभावी होगा। कक्षा 9वीं व 11 वीं के विद्यार्थियों को अगले वर्ष होनेवाली मैट्रिक व इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा में शामिल होना है। राज्य में इससे पहले सरकारी स्कूलों में पढ़नेवाले कक्षा आठ तक के बच्चों को अगली कक्षा में बिना परीक्षा प्रमोट किया जा चुका है। कोविड 19 के संक्रमण के कारण राज्य में 17 मार्च 2020 से स्कूल बंद है।

1 2 3 109