14 लोगों की हुई घर वापसी… ईसाई धर्म छोड़कर फिर अपनाया सरना धर्म

Share

रांची में ईसाई बने तीन परिवारों की घर वापसी हुई है. झारखंड आदिवासी सरना विकास समिति धुर्वा की ओर से सरहुल पूजा स्थल के पास एक समारोह का आयोजन किया गया. जिसमें विधि-विधान से तीनों परिवार के 14 सदस्यों ने फिर से सरना धर्म को अपना लिया है.

इस समारोह में 14 लोगों का शुद्धिकरण किया गया. इसके साथ ही सरना धर्म के विधि-विधान के तहत सफेद मुर्गा, तांबा और हल्दी कटवाया गया और संकल्प के साथ पूजा-अर्चना की गई. समिति के अध्यक्ष मेघा उरांव ने बताया कि किसी वजह से अपने धर्म को छोड़कर इसाई धर्म को उन लोगों ने अपना लिया था, जब इन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ तो यह लोग फिर से सरना धर्म को अपना लिया हैं. उन्होंने कहा कि तीनों परिवार सरना धर्म में वापस हो गए हैं, जो स्वागत योग्य है. इसके साथ ही कहा कि प्रत्येक व्यक्ति स्वेच्छा से किसी भी धर्म को स्वीकार कर सकता है. यह अधिकार भारत के संविधान में है. लेकिन, एक धर्म गलत बताकर धर्मांतरण कराना पाप है. सुनील उरांव, मुनी देवी, अमन उरांव, अनुष्का कुमारी, श्रीकांत उरांव, शीतल कुमारी, मंजू उरांव, गोपाल लोहरा, कलावती देवी, श्रवण लोहरा, जोसेफ लोहरा, रिंकी देवी, आयुष लोहरा और आशा कुमारी इनलोगों ने घर वापसी की है. इन लोगों ने कुछ साल पहले ईसाई धर्म को अपना लिया था.

1 2 3 179
Facebook Comments Box