क्या 3 साल पहले ही गिर जाएगी हेमंत सरकार?.. बड़ी साजिश का खुलासा, 3 गिरफ्तार… जानिए क्या है झारखंड का राजनीतिक गणित

Share

अगला विधानसभा चुनाव नवंबर 2024 के आसपास होना है। 2019 में JMM की गठबंधन सरकार बनी थी। हेमंत सोरेन राज्य के मुख्यमंत्री बनाए गए थे। यानी सरकार के अभी 3 साल बचे हैं। 81 विधानसभा सीट वाले झारखंड में JMM के पास 30 सीट है, कांग्रेस के पास 18 सीट, RJD के पास 1 सीट, NCP के पास 1 सीट और CPI के पास 1 सीट। ये सभी पार्टियां गठबंधन सरकार का हिस्सा हैं। कुल मिलाकर गठबंधन के पास 51 सीटें हैं यानी बहुमत से 10 सीटें ज्यादा। इस स्थिति में सरकार को कोई खतरा नहीं हैं। क्योंकि विपक्ष में NDA के पास सिर्फ 30 सीटें हैं, यानी बहुमत से 11 सीटें कम। इसमें बीजेपी के पास 26 सीटें, AJSU के पास 2 सीट और IND के पास 2 सीट। 

लेकिन गठबंधन सरकार को गिराने की साजिश का खुलासा तब हुआ जब 3 लोगों को बड़े होटल से गिरफ्तार किया गया। इसमें दो लोग सरकारी कर्मचारी हैं। गिरफ्तार आरोपियों के नाम अभिषेक दूबे, अमित सिंह और निवारण प्रसाद महतो है। गिरफ्तारी के बाद इन्हें कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। अब इनसे पुलिस पूछताछ कर रही है। इन गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में सरकार को गिराने की साजिश का खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि ये कुछ विधायक के संपर्क में थे, जिन्हें सरकार से अलग होने के लिए लालच दिया जा रहा था। हालांकि अभी तक ये पता नहीं चला है कि गिरफ्तार आरोपी किन विधायकों के संपर्क में थे। गिरफ्तार आरोपियों का लिंक बड़े व्यापारियों से भी बताया जा रहा है, माना जा रहा है कि बड़े कारोबारी हेमंत सरकार को गिराने की साजिश रच रहे हैं, हालांकि ये किसके इशारे पर हो रहा है ये अभी साफ नहीं है।

ये भी पढ़े: ठेका मजदूर, किराना दुकानदार और फलवाला…क्या इन तीनों ने रच दी सरकार गिराने की साजिश…पुलिस के हाथ अब तक क्या लगा?

इस पूरे प्रकरण में ये बात सामने आई है कि बेरमो से कांग्रेस विधायक जयमंगल उर्फ अनूप सिंह ने कोतवाली थाने में 22 जुलाई को FIR दर्ज कराई थी। शिकायत हेमंत सरकार को गिराने को लेकर थी। शिकायत में बताया गया कि दूसरे राज्य से आए कुछ लोग सरकार को गिराने की साजिश रच रहे हैं। कांग्रेस विधायक की शिकायत पर रांची पुलिस हरकत में आई। मामला टॉप लेवल तक भी पहुंचा। जिसके बाद रांची समेत दूसरे शहरों में बड़े होटल पर छापेमारी की गई, जिसके बाद तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 419 (साजिश रचना),  धारा 420 (धोखाधड़ी) धारा 124A (  साजिश के तहत सरकार के लिए घृणा, अवमानना, असंतोष पैदा करना), धारा 120B (आपराधिक साजिश), धारा 34 और PR एक्ट की धारा 171 के साथ PC एक्ट की धारा 8/9 लगाई गई है।

1 2 3 116
Facebook Comments Box