रांची में रौब झाड़ने वाली फर्जी आईएएस अफसर गिरफ्तार…

Share

रांची के अरगोड़ा थाने की पुलिस ने खुद को आईएएस अफसर बताकर अशोक नगर में रह रही महिला को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार महिला का नाम मोनिका है और वह मध्य प्रदेश के कटनी जिले के बड़वाराकला की रहने वाली है। मोनिका ने खुद को 2020 बैच की आईएएस अफसर बता वीवीआईपी इलाके में शुमार अशोक नगर कॉलोनी में किराए पर मकान लिया था। बता दें अशोक नगर में अधिकांश आईएएस और आईपीएस अधिकारियों के आवास हैं। झारखंड पुलिस के कई बड़े अधिकारी भी अशोक नगर में रहते हैं। वहीं मकान संख्या C/06 के बाहर आईएएस मोनिका का बोर्ड लगा हुआ। उसने न सिर्फ घर के बाहर असिस्टेंट कलक्टर का नेम प्लेट लगा रखा था, बल्कि घर पर बॉडीगार्ड, सरकारी कार और रसोईया को भी रखा था। इससे लोगों को यह लगे कि वह आईएएस अधिकारी है। 

मोनिका ने अपने मकान मालिक और पड़ोसियों को यह बताया था कि वह जमशेदपुर में असिस्टेंट कलक्टर के रूप में पदस्थापित है। कुछ दिनों से वह लगातार घर पर ही रह रही थी। पूछने पर वह बताती थी कि वह छुट्टी पर है। मकान मालिक डॉ डीके राय को संदेह हुआ तो उन्होंने अरगोड़ा पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने जब मामले की तफ्तीश की तो पता चला कि महिला फर्जी है। पुलिस को देखकर मोनिका सकपका गई। जब पुलिसकर्मियों ने उससे पूछा कि आपकी पोस्टिंग कहां है तो उसने बताया कि वह 2020 बैच की आईएएस अधिकारी है और वर्तमान में असिस्टेंट कलक्टर के रूप में जमशेदपुर में पदस्थापित है। पुलिस ने उससे आइडी कार्ड और अन्य प्रमाण पत्र मांगे, लेकिन उसने कुछ नहीं दिखाया। पुलिस की दबिश की वजह से मोनिका टूट गई और उसने फर्जी होने का राज खोला। इसके बाद महिला को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस आरोपी महिला को जेल भेजने की तैयारी कर रही है।

1 2 3 116
Facebook Comments Box