झारखंड सरकार देगी 9वीं से 12वीं के स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप… जानें डिटेल्स…

Share

झारखंड सरकार 9वीं से 12वीं तक पढ़ने वाले सामान्य वर्ग के 52,289 विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति देगी। मुख्यमंत्री विशेष छात्रवृत्ति योजना के तहत यह छात्रवृत्ति पहली बार दी जा रही है। आपको बता दें कि यह छात्रवृत्ति केवल ऐसे लोग ही लाभान्वित होंगे, जिन्होंने वर्तमान में किसी अन्य योजना से छात्रवृत्ति या अनुदान प्राप्त न किया हो।

नौवीं-दसवीं के छात्र-छात्राओं को 150 रुपए महीने की दर से 10 महीने के लिए 1500 रुपए छात्रवृत्ति दी जाएगी। 11वीं -12वीं के सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राओं को 230 रुपए महीने के हिसाब से 10 महीने तक 2300 रुपए दिये जाएंगे। झारखंड स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग इसकी तैयारी कर रहा है

छात्रवृत्ति से लाभांवित होने वाले विद्यार्थियों में 9वीं के 8400 छात्र और 9637 छात्राएं, 10वीं के 7274 छात्र और 9030 छात्राएं, 11वीं के 5067 छात्र और 5648 छात्राएं और 12वीं के 3431 छात्र और 3772 छात्राएं शामिल है। 15 मई तक सभी जिलों से जिला बार छात्र एवं छात्राओं की संख्या के आधार पर राशि की मांग की जानी है। विद्यार्थियों के बैंक अकाउंट में छात्रवृत्ति की राशि दी जाएगी। इसके लिए छात्र-छात्राओं के नाम, क्लास, जेंडर, स्कूल का नाम, बैंक का नाम, आईएफएससी कोड, अकाउंट नंबर, आधार नंबर, छात्र का मोबाइल नंबर, पता, प्रखंड, जिला, पिन कोड की जानकारी स्कूल बार मांगी गई है।

झारखंड योजना परिषद के राज्य परियोजना निदेषक डॉ. शैलेश कुमार चौरसिया का कहना है कि स्कूली सुविधा में सुधार और बच्चों के नामांकन में काफी बढ़त हुई है। लेकिन ऐसे बच्चे जो सामाजिक, सांस्कृतिक, आर्थिक कारणों के चलते पढ़ाई बीच में छोड़ देते है। ऐसे में इन बच्चों का ठहराव और उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त प्रोत्साहन के लिए शिक्षा विभाग ने छात्रवृत्ति देने का निर्णय लिया है। इसके लिए संबंधित छात्र-छात्राओं की संख्या की जानकारी सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों से मांगी गई है। इसकी तैयारी स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग कर रहा है।

झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। इन पर पर फैसला अब एक जून के बाद होगा। झारखंड एकेडमिक काउंसिल के अनुसार, यह फैसला कोरोना महामारी के मद्देनजर लिया गया है। अगला फैसला एक जून को परिस्थितियों की समीक्षा के बाद लिया जाएगा। परीक्षा की तिथि की घोषणा 15 दिन पूर्व की जाएगी, ताकि छात्र तैयारी कर सकें. इससे पूर्व 10वीं और 12वीं का प्रैक्टिकल एग्‍जाम अगले आदेश तक स्‍थगित कर चुका है।