बाल सुधार गृह में बंदी की मौत के सच का हुआ खुलासा…

Share

जमशेदपुर : उपायुक्त पूर्वी सिंहभूमि ने राज्य मानवाधिकार रांची को बाल सुधार गृह में मानगो के बाल बंदी की मौत की न्यायिक जांच की रिपोर्ट सौंप दी है। परसुडीह के घाघीडीह बाल सुधार गृह में मानगो के बाल बंदी ने खुदकुशी की थी। रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि बंदी पर गंभीर आरोप थे। लंबे समय तक जमानत नहीं मिलने के कारण वह आहत और परेशान था।

आयोग ने पूरे मामले की जानकारी मानवाधिकार संगठन के प्रमुख मनोज मिश्रा को भेज कर 28 अक्टूबर तक उनका मंतव्य मांगा है। बताया जा रहा है झारखंड राज्य मानवाधिकार आयोग की मांग पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनोज प्रसाद ने मामले की न्यायिक जांच प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी कृष्णा लोहरा से कराई थी। 9 ़फरवरी 19 को रिपोर्ट सौंपी गई थी। जेएम लोहरा ने 17 पन्ने की जांच रिपोर्ट 13 नवम्बर 19 को दी थी। बंदी का शव 20 सितंबर 2018 को फंदे से लटकता हुआ बरामद किया गया था।

1 2 3 150
Facebook Comments Box