रांची में गुजरात से आ रहे प्रवासियों का अफसर करते रहे इंतजार… हटिया से पहले ही उतर गए प्रवासी…

Share

शुक्रवार को दो स्पेशल ट्रेन हटिया रेलवे स्टेशन पर आईं। पहली सूरत हटिया स्पेशल ट्रेन प्रवासी श्रमिकों को लेकर पहुंची,जिसमें कुल 157 यात्री सवार थे। इसमें से अधिकतर यात्री पहले ही बीच के स्टेशनों पर उतर गए थे। ऐसे में प्रशासन की ओर से यात्रियों को क्वारेंटाइन करने के लिए जो व्यवस्था की गई थी, वो किसी काम नहीं आ पाई। इसके बाद यशवंतपुर एक्सप्रेस पहुंची।

बताते दें कि प्रशासन की ओर से तमाम प्रवासी श्रमिकों के लिए हटिया रेलवे स्टेशन पर बसों की व्यवस्था हुई थी, ताकि यात्रियों को स्टेशन परिसर से निकालकर सीधे बसों में बैठाया जाए और उन्हें गंतव्य स्थान के लिए भेजा जाए। इस ट्रेन से हटिया स्टेशन पर कम यात्री ही उतरे। हालांकि जो भी यात्री स्टेशन पहुंचे, प्रशासन की ओर से उनकी जांच की गई और रिपोर्ट मोबाइल पर भेजे जाने की बात कही गई। जो अन्य जिलों के थे, उनके लिए स्टेशन के बाहर लगभग 10 बसें लगाई गईं थीं। लेकिन बसों में कम ही यात्री थे. इस ट्रेन में खूंटी से तीन, कोडरमा से तीन, गुमला से एक, हजारीबाग से 14 और रांची से 59 यात्री थे। जानकारी के मुताबिक गुजरात मे तूफान प्रभावित क्षेत्रों में फंसे झारखंड के कुछ मछुआरे भी प्रदेश लौट आए हैं। इधर, हटिया यशवंतपुर एक्सप्रेस में यात्रियों की संख्या काफी थी और इस भीड़ को नियंत्रित करने में एक बार फिर आरपीएफ की टीम और जिला पुलिस बल सफल नहीं हुआ। सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल नहीं रखा जा सका और यात्री अपने मन मुताबिक घर के लिए निकल गए। ट्रेनों में उतनी संख्या में यात्री नहीं थे, जिसे संभाला नहीं जा सकता था। लगातार कोरोना की रोकथाम को लेकर कोताही बरती जा रही है।

1 2 3 72

50 हजार से अधिक सम्मानित पाठकों के साथ झारखंड जंक्शन झारखंड का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला ऑनलाइन न्यूज पोर्टल है।

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- 7042419765

Facebook/Jharkhand Junction