रांची सुधा डेयरी के प्लांट में घुसने के 37 मिनट बाद ही गायब हो गए सीनियर इंजीनियर… पुलिस मामले की जांच में जुटी

Share

रांची के सुधा डेयरी के सीनियर इंजीनियर सुजीत कुमार बुधवार सुबह से लापता हैं. प्लांट में घुसने के 37 मिनट बाद उनका फोन स्विच ऑफ हो गया. सुजीत कुमार मूल रूप से बिहार के नवादा के रजौली के रहने वाले है. वर्तमान नें अभी सुजीत का परिवार रांची में हिनू-एयरपोर्ट रोड में रहता है.

घटना की सूचना पाकर उनकी पत्नी सोनी देवी, पुत्र पीयूष कुमार, समधी, दामाद सहित परिवार के कई लोग गुरुवार दोपहर एक बजे प्लांट के बाहर पहुंचे और करीब एक घंटे के लिए मेन गेट जाम कर दिया. सूचना मिलते ही धुर्वा और जगन्नाथपुर पुलिस यहां पहुंची. हल्का बल प्रयोग करने के बाद परिवारवालों को समझा-बुझाकर कर शांत कराया. सुजीत कुमार बुधवार सुबह 9:40 बजे सुधा डेयरी के प्लांट में घुसे थे. इसके बाद वे परिसर में बने डेयरी के एफ्लुएंट ट्रीटमेंट प्लांट की ओर गये, जहां दूध को साफ करने के बाद निकलनेवाले गंदे पानी को साफ कर रिलीज किया जाता है. रास्ते में उन्होंने कुछ स्टाफ से बात की. सुबह 10:17 बजे उनका मोबाइल स्विच ऑफ हो गया. घटना की जानकारी मिलने पर धुर्वा पुलिस अौर एनडीआरएफ के गोताखोर उन्हें खोजने के लिए गुरुवार को मौके पर पहुंचे, लेकिन देर रात तक उनका कुछ पता नहीं चला. बाद में प्लांट में बने तालाब का पानी निकालने के लिए मोटर लगाया गया. परिजनों ने आरोप लगाया कि डेयरी प्रबंधन ने 30 फीट गहरे पानी को सुखाने के लिए छोटा सा मोटर लगाया है, जो 10 दिन में भी पानी नहीं निकाल पायेगा. उधर, सुधा डेयरी के मैनेजर ने गेट जाम कर रहे लोगों के खिलाफ धुर्वा थाना में लिखित शिकायत की है. पुलिस इंजीनियर के मोबाइल का लोकेशन और कॉल डिटेल रिकॉर्ड निकाल रही है. इंजीनियर के पुत्र पीयूष ने बताया कि कुछ दिन पहले 14 लाख का रोल (दूध का पैकेट बनानेवाला प्लास्टिक का बंडल) गायब हो गया था. उस समय पापा छुट्टी पर थे. छुट्टी से लौटने के बाद मैनेजर मो माजिदउद्दीन से उनका विवाद हुआ था. वहीं, मैनेजर का कहना है कि इस संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है. पत्नी ने बताया कि पति किसी तनाव में नहीं थे.

1 2 3 179
Facebook Comments Box