रांची यूनिवर्सिटी का फैसला… परीक्षा दिए बिना 1 लाख 90 हजार विद्यार्थी होंगे प्रमोट…

Share

देश के साथ साथ कोरोना संक्रमण का कहर झारखंड के तमाम जिलों और राजधानी रांची में भी जारी है। कोरोना के वजह से शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह चरमराई हुई है। स्कूलों में समय से पहले गर्मी की छुट्टियां घोषित कर दी गईं हैं.। वहीं, उच्च शिक्षा देने वाले विश्वविद्यालय और कॉलेज बंद हैं। इन्हीं सब के बीच ऑनलाइन पड़ाई कराई जा रही है। दूसरी और कई विश्वविद्यालयों ने ऑनलाइन परीक्षाएं भी आयोजित करनी शुरू कर दी हैं। कहा जा रहा है कि डीएसपीएमयू में यूजी-पीजी के करीब 10 हजार स्टूडेंट ऑनलाइन परीक्षा में शामिल होंगे।

इन सबको देखते हुए रांची विश्वविद्यालय की ओर से एक बड़ा निर्णय लिया गया है। विश्वविद्यालय ने यूजी और पीजी के 1 लाख 90 हजार स्टूडेंट बिना परीक्षा के ही प्रमोट किए जाएंगे। रांची विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक आशीष कुमार झा ने जानकारी देते हुए कहा है कि यूजीसी की गाइडलाइन के मुताबिक विश्वविद्यालय की ओर से यह फैसला लिया गया है। मिड सेमेस्टर और प्रैक्टिकल के नंबर के आधार पर फाइनल सेमेस्टर को छोड़कर यूजी और पीजी के सभी सेमेस्टर के विद्यार्थियों को प्रमोट किया जाएगा। रांची विश्वविद्यालय के कई कॉलेजों ने मिड सेमेस्टर और प्रैक्टिकल का नंबर भेजे हैं। इसी के आधार पर विद्यार्थियों के नंबर निर्धारित किए जा रहे हैं, ताकि उन्हें प्रमोट किया जा सके और उनका सेशन भी लेट ना हो।