रांची में होटल व्यवसायी की संदिग्ध मौत… मौत से पहले बनाया वीडियो…

Share

पहले अफेयर फिर शादी बाद में पत्नी और उसके घरवालों का पति पर टॉर्चर और आखिर में पत्नी ने ही जहर की गोलियां देकर अपने पति की हत्या कर दी। आपको यह बातें फिल्मी लग रही होगी पर यह घटना रांची की है। जी हां रांची में एक कारोबारी की मौत का मामला सामने आया है। कारोबारी की मौत से पहले उसका एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वह अपनी पत्नी पर जहर की गोलियां देकर हत्या करने का आरोप लगा रहा है।

पत्नी ने दी जहर

यह मामला रांची के सुखदेव नगर थाना क्षेत्र के होटल व्यवसायी प्रेमजीत प्रसाद का है, अपनी मौत से पहले प्रेमजीत ने अपना एक वीडियो बनाया था। इसमें प्रेमजीत यह कह रहा है कि उसकी पत्नी ने ही उसे जहर की गोलियां खिलाई हैं। साथ हीं प्रेमजीत ने अपने ससुराल वालों पर टॉर्चर का भी आरोप लगाया है। वीडियो को देख प्रेमजीत के घरवाले भी हैरान है। कहा जा रहा है कि होटल व्यवसायी प्रेमजीत ने 2 साल पहले प्रेम विवाह किया था, लेकिन इस शादी को प्रेमजीत के घरवालों को नागवार गुजरा था, जिसके बाद प्रेम अपनी पत्नी स्वाति के साथ किराए के मकान में रह रहा था। लेकिन उसके बाद से ही उसे लगातार उसकी पत्नी और पत्नी के घर वाले उसे टॉर्चर करते थे, शादी के बाद उसकी पत्नी स्वाति ने दहेज उत्पीड़न का केस सुखदेव नगर थाने में दर्ज कराया था। अपनी  मौत से पहले प्रेमजीत ने एक वीडियो में इस तरह का आरोप अपनी पत्नी और ससुराल पक्ष पर लगाया है।

पुलिस ने दी जानकारी

वहीं इस पूरे मामले में प्रेमजीत के घरवालों का कहना है कि प्रेमजीत ने 2 साल पहले अपनी पंसद से शादी की थी। जिसके बाद से वो अलग रहता था। उन्होंने बताया कि प्रेमजीत घर आया था. उसने अपनी मां को बताया था कि उसकी पत्नी ने उसे कुछ खिलाया है। जिससे उसकी तबियत खराब हो गई है। वो रिम्स जा रहा है। लेकिन रिम्स पहुंचने से पहले ही मोराबादी स्थित फुटबॉल स्टेडियम में उसका शव मिला। जिसकी जानकारी उन्हें पुलिस से मिली है। प्रेमजीत के घरवालों ने बरियातू थाने के शिविर में आवेदन दिया है, जहां से केस को सुखदेव नगर थाने में फारवर्ड किया गया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट खोलेगा राज

प्रेमजीत का ये वीडियो मंगलवार शाम का है, और इसी दिन प्रेमजीत का शव मोराबादी के फुटबॉल ग्राउंड के पास पुलिस को मिली। जिसके बाद घरवालों को इसकी सूचना दी गई। फिलहाल शव का पोस्टमार्टम किया जा रहा है, जिससे यह पता चल जाएगा कि मौत की वजह क्या थी। वहीं इस पूरे मसले पर अब तक स्वाति और उसके परिवार वालों ने चुपी साध रखा है। यहां तक की अपने पति की मौत के बाद भी स्वाति या उसके मायके वाले रिम्स नहीं पहुंचे।