बर्थ सर्टिफिकेट बनाने के लिए अब लेना होगा इनका हस्ताक्षर…

Share

अब रांची नगर निगम क्षेत्र में घर में जन्म लेने वाले नवजात का बर्थ सर्टिफिकेट निगम तभी जारी करेगा, जब अभिभावक स्थानीय दाई, आंगनबाड़ी सेविका, एनएनएम या आशा कार्यकर्ता से अनुशंसा करवायेगा. निगम जन्म व मृत्यु शाखा की ओर से बताया गया कि बिना अनुशंसा पत्र के जमा होने वाले आवेदनों को निगम रिजेक्ट कर देगा. इस संबंध में जिला सांख्यिकी पदाधिकारी ने रांची नगर निगम के निबंधक को पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने लिखा है कि जन्म प्रमाण पत्र के मामले में उपरोक्त कर्मियों का प्रतिवेदन संलग्न किया जाना जरूरी है, ताकि 30 दिन के बाद से जो जन्म  प्रमाण पत्र बनते हैं. उनके रजिस्ट्रेशन की अनुमति दी जा सके.

जन्म प्रमाण पत्र के मामले में अब तक अनुशंसा पार्षद ही किया करते थे. लेकिन नये नियमों के तहत पार्षदों के अनुशंसा का अब कोई महत्व नहीं रह जायेगा. सांख्यिकी पदाधिकारी के इस आदेश का विरोध निगम के पार्षद भी कर रहे हैं. इनका कहना है कि नये नियमों से पब्लिक को ही सबसे अधिक कष्ट होगा. क्योंकि पार्षद लोगों के बीच रहते थे. हर दिन लोगों के बीच उठना बैठना होता था. अब लोगों को आंगनबाड़ी सेविका, सहिया व एएनएम के पास दौड़ेंगे.

1 2 3 179
Facebook Comments Box