रिम्स में मरीज की मौत पर हंगामा… परिजन और सुरक्षाकर्मियों में मारपीट

Share

रिम्स में मरीज के परिजन और सुरक्षा गार्ड के बीच मारपीट हुई है. बताया जा रहा है कि 65 वर्ष सायरा खातून को उल्टी और सांस लेने में परेशानी हो रही थी. रिम्स में इलाज के दौरान मौत हो गई थी. जिसके बाद परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया. इसको लेकर वहां मौजूद सुरक्षा गार्ड और परिजनों में जमकर मारपीट हो गई.

परिजनों ने मरीज की मौत होने पर रिम्स के डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया. जिसको लेकर मेडिसिन आईसीयू के स्वास्थ्य कर्मचारियों ने परिजनों के आरोप को गलत बताते हुए इसका विरोध किया. विरोध के बाद धीरे-धीरे दोनों तरफ से विवाद बढ़ने लगा और वार्ड में हंगामा होने लगा. हंगामा बढ़ता देख मौके पर रिम्स में तैनात सुरक्षाकर्मी पहुंचे और उन्होंने परिजनों को समझाने का प्रयास किया. लेकिन आक्रोशित परिजन किसी की बात सुनने को तैयार नहीं थे. वो डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए डॉक्टरों पर कार्रवाई की बात कर रहे थे. इसी बीच सुरक्षाकर्मी का एक गार्ड परिजनों को धक्का-मुक्कीकर वार्ड से बाहर निकालने की कोशिश करने लगा, जिससे परिजन भड़क गए और सुरक्षाकर्मियों और परिजनों के बीच मारपीट शुरू हो गई. हंगामे को देखते हुए मौके पर बरियातू थाना और रिम्स टीओपी की पुलिस पहुंची और किसी तरह आक्रोशित लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया गया.

आक्रोशित परिजनों ने आरोप लगाया कि रिम्स का सुरक्षाकर्मी महिलाओं और बच्चों पर लाठी से हमला किया, जिसमें कई महिलाएं और बच्चे भी घायल हुए हैं.रिम्स में तैनात सुरक्षा गार्ड पर परिजनों के साथ साथ अन्य महिलाओं का गुस्सा फूट पड़ा. मरीज के परिजनों ने रिम्स मेडिसिन विभाग में तैनात सुरक्षा गार्ड पर महिलाओं से मारपीट करने का आरोप लगाया. इतना ही नहीं उनका कहना है कि परिजनों से सुरक्षा गार्ड ने छेड़खानी की, इसके अलावा दूसरी महिलाओं के साथ हाथापाई की. ,एक अन्य महिला का कहना है कि उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया, उनके साथ मारपीट की गई, काला कुर्ता पजामा पहने सुरक्षा गार्ड ने महिलाओं के साथ बदतमीजी की उनसे मारपीट की.

1 2 3 157
Facebook Comments Box