पोलिया की डोज दिलाता एक पिता और डेगची में नवजात… ये पिता की बेबसी है या सिस्टम की हकीकत!…

Share

साहिबगंज से एक बच्चे की तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। इस तस्वीर में एक बर्त्तन (डेगची) में बच्चें को पोलियो का टीका दिया जा रहा है। यह तस्वीर एक ओर जहां स्वास्थ्य के प्रति लोगों की जागरूकता प्रदर्शित कर रही हैं, वहीं प्रशासन की तैयारियों और सिस्टम की हकीकत भी बयां कर रही हैं। बता दें पोलियो उन्मूलन को लेकर साहिबगंज में तीन दिवसीय विशेष पल्स पोलियो अभियान चलाया जा रहा है। इसी दौरान रविवार को जिले के बाढ़ प्रभावित सिरसा गांव तक स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची। वहीं गांव में एक पिता को अपने नवजात बच्चे को पोलियो की खुराक दिलवानी थी, लेकिन वो इस बात से परेशान थे कि इस बरसात और उफनती नदी के बीच वो केंद्र तक बच्चे को ले कैसे जाए। तभी बच्चे के पिता को धार्मिक ग्रंथ की एक कहानी याद आई, जिसमें वासुदेव ने नन्हें कृष्ण को टोकरी में रखकर यमुना नदी पार कर मथुरा से गोकुल पहुंचे।

पिता ने अपने बच्चे को डेगची में रखकर उसे अपने सिर पर उठाकर स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। इस दृश्य को देखकर सभी अचंभित रह गए। हालांकि जिस स्थान पर पल्स पोलियो की खुराक देने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम मौजूद थी, वहां भी पानी भरा हुआ। अब बच्चे के पिता को यह समझ में नहीं आया, कि उसे खुराक कैसे दिलायी जाए, इसी उधेड़बुन में उसे एक तरकीब नजर आयी और उन्होंने डेगची को ही पानी के सतह पर रख दिया, जिसके बाद स्वास्थ्य कर्मियों ने बर्तन में रखे नवजात को पल्स पोलियो की खुराक पिलायी। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इस तस्वीर को अपने कैमरे कर लिया। कैमरे में ली गई तस्वीर कई कहानियां कह रही है। एक ओर यह तस्वीर स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता की कहानी कह रही है, तो दूसरी ओर सिस्टम की खामियां भी प्रदर्शित हो रही है। प्रशासन और सरकार की ओर से भले ही दावा किया जा रहा है कि पल्स पोलियो की खुराक देने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव-गांव में घर-घर पहुंच रही है, लेकिन यह तस्वीर अलग ही सच्चाई बयां कर रही हैं।

1 2 3 150
Facebook Comments Box